न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

शिवप्रसाद हत्याकांड की जांच में तेजीः कई लोगों से पुलिस की पूछताछ, 7 जुलाई को हुआ था मर्डर

सिटी डीएसपी के तबादले के बाद धीमी पड़ी थी जांच की रफ्तार

27

Ranchi: 7 जुलाई को गुरु नानक स्कूल के शिक्षक शिवप्रसाद हत्याकांड के मामले की जांच में तेजी आई है. पुलिस ने एक बार फिर मामले की जांच तेज कर दी है. इस सिलसिले में पुलिस ने मृतक शिव प्रसाद के फोन में मिले कांटेक्ट नंबर के आधार पर कई लोगों से पूछताछ भी की है. जिससे उम्मीद जताई जा रही है कि जल्द ही शिवप्रसाद के हत्यारे तक पुलिस पहुंचने में सफल हो सकती है.

इसे भी पढ़ेंःअब पाकुड़ की जनता कह रही कैसे डीसी के संरक्षण में हो रहा है अवैध खनन, सवालों पर डीसी चुप

ज्ञात हो कि टीचर प्रसाद की हत्या 7 जुलाई की शाम हुई थी. तकरीबन 8:30 बजे एक स्कूटी पर आए दो अपराधियों ने लालपुर सब्जी मंडी के पास गोली मारकर हत्या कर दी थी.

क्या था मामला

7 जुलाई की रात 8:30 बजे लालपुर थाना क्षेत्र के सब्जी बाजार के पास दो अपराधियों ने गुरुनानक स्कूल के शिक्षक शिव प्रसाद की गोली मार कर हत्या कर दी थी. घटना को अंजाम स्कूटी सवार दो अपराधियों ने दिया और लालपुर चौक की ओर भाग निकले. घटना की सूचना मिलने के बाद पीसीआर वैन वहां पहुंची और शिव प्रसाद को लेकर रिम्स पहुंची. जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था.

पत्नी से चल रही थी अनबन

शिव प्रसाद शादीशुदा थे. उनके बच्चे भी है. लेकिन पारिवारिक विवाद के कारण उनकी पत्नी साथ नहीं रहती थी. वह धनबाद में रहती है. पिता दीनदयाल प्रसाद ने पुलिस को बताया था कि पत्नी से शिव प्रसाद का विवाद होने के कारण उसके ससुर विजय ने उसे मरवाने की धमकी दी थी. उसके ससुर धनबाद में माइनिंग सरदार है.

इसे भी पढ़ेंःJPSC के सिलेबस में बड़े बदलाव की तैयारीः पहले मेंस से ऑप्सनल हटा- सीसेट रद्द हुआ, फिलहाल मेंस में जेनरल नॉलेज का पेपर

सिटी डीएसपी के तबादले के बाद जांच पड़ गई थी धीमी

शिवप्रसाद हत्याकांड के मामले की जांच तत्कालीन सिटी डीएसपी राज कुमार मेहता कर रहे थे. इस मामले में पुलिस को काफी कुछ जानकारी भी मिली थी. लेकिन मामला का खुलासा होने से पहले ही सिटी डीएसपी राजकुमार मेहता का तबादला हो गया. जिसके चलते मामले की जांच थोड़ी धीमी पड़ गई थी. नए सिटी डीएसपी रंजन के आने से एक बार फिर शिवप्रसाद हत्याकांड के जांच में तेजी आई है.

इसे भी पढ़ेंःराज्य प्रशासनिक सेवा के 420 पोस्ट खाली, 25 अफसरों पर गंभीर आरोप, 07 सस्पेंड, 06 पर डिपार्टमेंटल प्रोसिडिंग, 05 पर दंड अधिरोपण

सिटी डीएसपी प्राणरंजन से बात करने पर उन्होंने बताया कि शिवप्रसाद हत्याकांड के मामले में अनुसंधान जारी है. उम्मीद है जल्द ही मामले का खुलासा हो जाएगा.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: