न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

काम देने के बहाने रांची बुलाकर नाबालिग से रेप, सलाखों के पीछे आरोपी

988

Ranchi: रांची के मैकलुस्कीगंज की रहने वाली नाबालिग लड़की से रेप के आरोपी को रांची के पंडरा इलाके से पुलिस ने हिरासत में लिया है. जिसे आज जेल भेजा जा रहा है. दुष्कर्म के मामले में 15 थाना की पुलिस ने रॉकी नाम के आरोपी युवक को हिरासत में लिया है. वहीं पीड़िता की मेडिकल जांच कराई जायेगी. हालांकि, कोर्ट बंद होने के कारण फिलहाल पीड़ित का बयान दर्ज नहीं कराया जा सकेगा. लेकिन थाने में पीड़िता द्वारा दर्ज बयान पर पुलिस कार्रवाई कर रही है. पीड़िता ने पंडरा थाना में दिए बयान में कहा है कि रॉकी ने उसे काम दिलाने के बहाने से रांची बुलाया, फिर उसके साथ दुष्कर्म किया और मना करने पर धमकी भी देता रहा.

मानव तस्करी की शिकार हुई थी नाबालिग

मिली जानकारी के अनुसार मैक्लुस्कीगंज की रहने वाली नाबालिग लड़की मानव तस्करी की भी शिकार हुई थी. पिछले साल 2017 में उसे मानव तस्करों ने दिल्ली में बेच दिया था. पीड़ित लड़की कुछ दिन दिल्ली में रही और फिर वह वहां से भाग कर रांची आ गई. जिसके बाद पीड़ित लड़की दोबारा साल 2018 में वह अपने मन से काम करने के लिए दिल्ली गई.

फोन के जरिए हुई जान पहचान

पीड़िता जब दोबारा काम करने के लिए दिल्ली गई तो उसी दौरान पीड़िता की फोन के जरिए रॉकी नाम के युवक से दोस्ती हुई. बताया जा रहा है कि आरोपी आइटीआइ बस स्टैंड के पास का रहने वाला है  और एक कपड़े की दुकान पर काम करता है. मिली जानकारी के अनुसार, रॉकी ने पीड़िता को काम दिलाने के बहाने रांची बुलाया था. मना करने के बावजूद फोन पर उसे लगातार बुलाता रहा. जिसके बाद दो महीने पहले लड़की दिल्ली से रांची आ गई. पीड़िता को आइटीआइ बस स्टैंड के पास के ही एक मकान में ले गया, वहां पहले से एक युवती रहा करती थी. वहीं पर उसके साथ रॉकी ने कई बार दुष्कर्म किया.

शादी की बात पर पीड़िता को धमकी

पीड़िता का कहना है कि आरोपी ने लड़की का कमरा छोड़कर जाने के लिए कहा, लेकिन पीड़िता ने जाने से मना कर दिया. वहीं पीड़िता ने जब शादी के लिए दबाव बनाना शुरु किया तो आरोपी ने  अंजाम भुगतने की धमकी दी. जिसके बाद पीड़िता ने पंडरा ओपी पहुंच शिकायत दर्ज कराई.

इसे भी पढ़ेंः गुजर गये चार साल, फाइलों में ही पड़ा रह गया 1014.8 करोड़ का एक्शन प्लान

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: