Crime NewsGiridihJharkhand

विवाहिता का अगवा कर दो युवक एक माह तक करते रहे दुष्कर्म, वीडियो बनाकर वायरल करने की दी धमकी

Giridih:  25 वर्षीया विवाहिता को अगवा कर उसके साथ लगभग एक माह तक दो युवक दुष्कर्म करते रहे. साथ ही वीडियो बनाकर वॉयरल करने की धमकी दी. मामला शनिवार को गिरिडीह के थाने में आया. पुलिस अब पूरे मामले की जांच में जुट गयी है. शनिवार को पीड़िता अपने दादा और चाचा के साथ थाना पहुंची. जानकारी के अनुसार पीड़िता के साथ जिन दो आरोपियों ने दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया, उनमें अहिल्यापुर थाना के मोहलीयाडीह गांव के अशफाक मियां और मुशर्रफ हैं.

इसे भी पढ़ेंःमहिलाओं पर अभद्र टिप्पणी का मामलाः BCCI ने पंड्या, राहुल पर लगाया 20-20 लाख का जुर्माना

एक ही गांव के हैं पीड़िता और दोनों आरोपी

जानकारी के अनुसार पीड़िता को दोनों आरोपी एक ही थाना क्षेत्र होने के कारण जानते थे. पीड़िता के अगवा होने की रिपोर्ट पहले ही पीड़िता के दादा ने थाना में दर्ज कराया था. लेकिन 20 दिनों तक हैवानों के कब्जे में रही पीड़िता शुक्रवार को अपने परिजनों से मिली. जानकारी के अनुसार पीड़िता गिरिडीह के अहिल्यापुर थाना क्षेत्र की रहने वाली है.

इस तरह घटी पूरी घटना

बीते 23 मार्च को पीड़िता अपने दादा के साथ ससुराल से सवारी गाड़ी से गिरिडीह के अहिल्यापुर के गांव स्थित मायके लौट रही थी. इसी बीच जब पीड़िता शहर के बस पड़ाव पर उतरी, तो उसके दादा ने उससे कहा कि वह बगल से सत्तू पीकर आ रहे हैं. इसी क्रम में अपने रिश्तेदारों को बोलेरो गाड़ी से बस पड़ाव पहुंचा कर लौट रहे पीड़िता पर दोनों आरोपियों की नजर पड़ी. पहचान होने के कारण दोनों ने पीड़िता से कहा कि वे लोग भी घर चल रहे हैं. पहचान होने के कारण ही पीड़िता उनके वाहन में बैठ गयी. आरोपी असफाक व मुशर्रफ ने कहा कि रास्ते से उसके दादा को भी ले लेंगे. लेकिन बस पड़ाव से निकलने के बाद दोनों आरोपियों ने अपने बोलेरो की स्पीड बढ़ा दी. इस पर जब पीड़िता चिल्लाने लगी, लेकिन गाड़ी का शीशा बंद था. इस दौरान एक आरोपी ने उसके साथ मारपीट कर उसे बेहोश कर दिया.

इसे भी पढ़ेंःसिमडेगा में युवक ने चाचा और दादी की कुल्‍हाड़ी से मार कर की हत्या

टुंडी के कोल्हर जंगल के पास लाकर छोड़ दिया

करीब दो घंटे बाद पीड़िता को जब होश आया, तो उसने खुद को एक कमरे में बंद पाया. दोनों हैवान बारी-बारी से उसके साथ दुष्कर्म करते रहे. और वीडियो भी बनाते रहे. बीते शुक्रवार को दोनों आरोपियों ने पीड़िता को धनबाद के टुंडी थाना क्षेत्र के कोल्हर जंगल में छोड़ दिया और फरार हो गये. पीड़िता ने किसी स्थानीय व्यक्ति के फोन पर संपर्क कर अपने चाचा व दादा को कोल्हर जंगल बुलाया. इसके बाद चाचा व दादा पीड़िता को लेकर घर लौटे. वहीं शनिवार को दोनों ने थाना पहुंच कर घटना की जानकारी पुलिस को दी.

इसे भी पढ़ेंःभाजपा और संघ का चरित्र दोहरा, शहीद का अपमान, देश का अपमान: झाविमो

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: