न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रांची के लोग बाहर जाते थे इलाज कराने, अब बाहर के लोग रांची आयेंगे : डॉ यादव

17 सितंबर को हॉस्पिटल का उद्घाटन होगा. हॉस्पिटल का उद्घाटन मुख्यमंत्री रघुवर दास करेंगे.

347

 Ranchi: अब रांची के मरीजों को बाहर इलाज कराने नहीं जाना पड़ेगा,  बल्कि बाहर के मरीज रांची आ कर अपना इलाज करायेंगे. रांची में ही मेट्रो सिटी की तर्ज पर सभी सुविधा एक ही छत के नीचे उपलब्ध करायी जायेगी.  यह बातें हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ एसएन यादव ने कही. उन्होंने बताया कि मां रामप्यारी सुपरस्पेशिलिटी हॉस्पिटल में तमाम प्रकार की  आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध करायी जायेगी.  एक ही छत के नीचे मरीजों को हर प्रकार की जांच से लेकर अन्य सभी चिकित्सा उपलब्ध होगी. उन्होंने बताया कि 17 सितंबर को हॉस्पिटल का उद्घाटन होगा. हॉस्पिटल का उद्घाटन मुख्यमंत्री रघुवर दास करेंगे.

इसे भी पढ़ें: राय यूनिवर्सिटी को नहीं मिल रहे छात्र, नैक टीम की चेतावनी के बाद भी नहीं सुधरे हालात

चिकित्सा के क्षेत्र में नया अध्याय जोड़ने को तैयार मां राम प्यारी अस्पताल

डॉ एसएन यादव ने बताया कि मां राम प्यारी सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल चिकित्सा के क्षेत्र में एक नया अध्याय जोड़ेगा. 150 बेड एवं 50 आईसीयू बेड वाले अस्पताल में पहली बार एक ही छत के नीचे मेडिकल की सभी सुविधा उपलब्ध करायी जायेगी. डॉ यादव ने कहा कि अस्पताल की स्थापना एनएबीएच के मानकों के आधार पर की गयी है. किसी भी जटिल एवं अकस्मात परिस्थितियों के लिए हॉस्पिटल की टीम सदैव तैयार रहेगी. उन्होंने बताया कि अस्पताल में आम जनों को किफायती दरों पर चिकित्सा उपलब्ध होगी.

इसे भी पढ़ें: चिरूडीह गोलीकांड: हजारीबाग DC रविशंकर शुक्ला, NTPC के GM समेत 24 पर हत्या का केस दर्ज

अत्याधुनिक ऑपरेशन थियेटर, एमआरआई व अन्य सुविधा उपलब्ध 

अस्पताल में अत्याधुनिक ऑपरेशन थियेटर, कैथलैब, ब्लड बैंक, सिटी स्कैन, एमआरआई, अल्ट्रासाउंड, एक्स-रे, पैथोलज्ञॅजी, फिजियोथेरेपी, रेडियोलॉजी की सुविधा एक ही छत के नीचे उपलब्ध है. साथ ही इस नये अस्पताल में हड्डी रोग विभाग, मस्तिष्क रोग, मूत्र रोग, शिशु रोग, छाती व पेट रोग, दंत रोग, मनोचिकित्सक, सर्जरी, प्लास्टिक सर्जरी व अन्य विभाग उपलब्ध होंगे.

हॉस्पिटल के सीईओ माधुरी यादव ने बताया कि राज्य में गर्भवती महिलाओं की डिलीवरी की सुविधा जिन हॉस्पिटल में उपलब्ध है वहां इमरजेंसी की स्थिति के लिए आईसीयू की सुविधा उपलब्ध नहीं है. लेकिन मां राम प्यारी अस्पताल में यह सुविधा उपलब्ध होगी. इसके अलावा पहली बार गर्भवती महिलाओं का दर्द रहित प्रसव कराया जायेगा.

एम्स की टीम करेगी इलाज

एम्स के चिकित्सक डॉ कौशल ने बताया कि चार डॉक्टरों की टीम एम्स से आयी है. यह टीम रांची में मरीजों की सेवा करेगी. मां राम प्यारी अस्पताल में एम्स के चिकिक्सों की टीम मरीजों का इलाज करेगी. सभी चिकित्सक 6-7 साल से एम्स में अपनी सेवा दे रहे हैं, लेकिन अब रांची में मरीजों का इलाज करेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: