JharkhandRanchi

जन्माष्टमी के नाम पर सड़क कैप्चरिंग शुरु, पांच दिनों तक फिर से अस्त-व्यस्त रहेगी रांची

Ranchi: आम दिनों में भी व्यस्त रहने वाले मार्ग मेन रोड़ को एक बार फिर से अस्त-व्यस्त करने की तैयारी चल रही है. सर्जना चौक पर जन्माष्टमी के नाम पर सड़क कैप्चर करने का कार्य शुरु हो चुका है. सड़क पर ही लंबा-चौडा मंच बनाया जा रहा है. जिसके कारण इस मार्ग पर चलने वाले लोगों के लिए परेशानी शुरु हो गई है. यह परेशानी कोई एक या दो दिन की नहीं है, बल्कि तीन सितबंर तक यही हाल रहेगा. आम दिनों में भी मेन रोड पर यातायात का भारी दवाब रहता है. हर एक-दो मिनट पर मेन रोड  पर जाम लगता रहता है. ऐसे में सड़क पर ही इस प्रकार का आयोजन करना मुसीबत को निमंत्रण देने के समान है.

इसे भी पढ़ें- सीवरेज-ड्रेनेज परियोजना पर सांसद महेश पोद्दार ने उठाया सवाल, की जांच की मांग

Catalyst IAS
ram janam hospital

और ज्यादा बढ़ जाती है परेशानी

The Royal’s
Sanjeevani
Pitambara
Pushpanjali

दरअसल बीते पांच सालों से जन्माष्टमी के अवसर पर दही-हांडी फोड प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है. इस आयोजन में लाखों लोगों की भीड़ उमडती है. जिसके कारण रांची प्रशासन द्वारा मेन रोड़ से जुडे कई सडकों पर आवागमन भी बंद कर दिया जाता है. जिससे परेशानी और ज्यादा बढ़ जाती है. आयोजन दो दिन तक होता है, लेकिन इसकी तैयारी एक हफ्ते पहले ही शुरु कर दी जाती है. मुख्य मंच बनने के बाद मात्र दस फीट का ही रास्ता बचता है. इतने कम बचे रास्ते में लोगों के आने-जाने में कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है.

इसे भी पढ़ें- राजधानी के हर घर तक जलापूर्ति के लिए अमृत योजना से खर्च होंगे 267 करोड़

क्या कहते है आम राहगीर  

बैंक ऑफ बड़ौदा में कार्यरत अमरेंद मिश्रा ने बताया कि इस तरह का आयोजन होना बुरी बात नहीं है. लेकिन इसका आयोजन खुले मैदान में होना चाहिए. इस तरह से सड़क पर आयोजन करने से कई प्रकार की समस्याएं उत्पन्न होती है. वहीं जेवियर कॉलेज की छात्रा शालिनी कुमारी का भी यही मानना है कि ऐसे कार्यक्रम खुले मैदान में हो तो और ज्यादा मनोरंजक हो सकता है, एवं ज्यादा से ज्यादा लोगों की भीड़ भी जुटेगी. खरीददारी करने आयी अंजना सिन्हा ने कहा कि आयोजन के लिए लगभग पूरा सड़क कैप्चर हो जाता है. जिसके कारण बार-बार जाम की स्थिति उत्पन्न होती है. मेन रोड़ राजधानी की मुख्य सड़क है, इसे जितना ज्यादा जाम मुक्त रखा जाए उतना ही अच्छी राजधानी की तस्वीर उभरेगी.

Related Articles

Back to top button