JharkhandLead NewsRanchi

रांची हिंसा : हत्या का आरोपी कारू ने किया था आग में घी डालने का काम, पुलिस को मिले साक्ष्य

Ranchi : 10 जून को मेन रोड उपद्रव में हिंसा भड़काने की साजिश में शामिल आरोपी मो. शकील उर्फ कारू लूल्हा हत्या का आरोपी है. 4 नवंबर 2018 को डेली मार्केट थाना से 50 मीटर की दूरी पर स्थित टैक्सी स्टैंड में सरेआम सोनू इमरोज की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इस हत्याकांड में कारू लूल्हा भी शामिल था. बढ़ते पुलिस दबिश के कारण कारू लूल्हा बाद में कोर्ट में सरेंडर किया था. वर्तमान में कारू लूल्हा जमानत पर है. मेन रोड में उपद्रव मामले में हिंसा भड़काने में शामिल कारु लूल्हा और मुन्ना के बीच बातचीत का ब्यौरा मिला है. जांच के लिये गठित एसआईटी को कॉल डंप की जांच में यह बात सामने आयी है. मेन रोड इलाके में हुए उपद्रव के दौरान यूपी के सराहनपुर से करीब एक दर्जन लोगों के शामिल होने की बात जांच में पता चली है. पुलिस घटना के दौरान मेन रोड में इस्तेमाल किये जाने वाले मोबाइल की भी जांच कर रही है. कई ऐसे मोबाइल नंबर की जानकारी मिली है. जो रांची से बाहर के है, पुलिस इसकी सत्यता की जांच में जुटी है.

पीएफआई का नाम सामने आने पर पुलिस सतर्क

वहीं 10 जून को हुए हिंसा में पीएफआई की भूमिका सामने आयी थी. पुलिस इसकी भी जांच कर रही है. पीएफआई की राजनीतिक विंग एसडीपीआई का इसी माह स्थापना दिवस होना है. इसके लेकर पुलिस मुख्यालय ने आदेश जारी कर सभी जिलो में पीएफआई की गतिविधियों पर नजर रखने का आदेश दिया है. 2018 तत्कालीन सीएम रघुवर दास ने पीएफआई पर झारखंड में प्रतिबंध लगाया था. संदिग्ध गतिविधि को देखते हुए सरकार ने यह आदेश दिया था.

Catalyst IAS
SIP abacus

जांच के इर्द-गिर्द सिमटा पुलिस कार्रवाई

Sanjeevani
MDLM

हिंसा मामले में पुलिस की कार्रवाई अब जांच तक सिमट कर रहा गया है. मामले में दो दर्जन से अधिक प्राथमिकी दर्ज की गयी है. करीब 29 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है. विगत दिनों से कार्रवाई के नाम पर कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पुछताछ तो किया जा रहा है. लेकिन किसी की गिरफ्तारी नही हो पा रही है. आरोपी के पोस्टर लगाने और तुरंत हटाने के बाद से कार्रवाई लगभग रोक दी गयी है. पुलिस अब मामले में जांच तक सीमित है. चर्चा है कि पुलिस दबाब के वजह से किसी उपद्रवी को गिरफ्तार करने से बच रही है.

इसे भी पढ़ें: संकट में उद्धव सरकार: बढ़ती ही चली जा रही है सियासी तपिश, शरद पवार ने की उद्धव से बात

 

Related Articles

Back to top button