JharkhandLead NewsRanchi

रांची हिंसा: आरोपी मोहम्मद आरिफ की जमानत याचिका अदालत से खारिज

Ranchi:  रांची हिंसा के आरोपी मोहम्मद आरिफ की जमानत याचिका को अदालत ने खारिज कर दी है. ऐसे में मोहम्मद आरिफ को अब जेल में ही रहना होगा. याचिका पर सुनवाई सिविल कोर्ट में हुई. जानकारी हो कि, बीजेपी नेता नूपुर शर्मा के बयान के विरोध में 10 जून को जुमे की नमाज के बाद करीब 4 घंटे तक मेन रोड पर कोहराम मचा था. हिंसा, आगजनी, उपद्रव और इसे काबू में करने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी थी. मामले में कई लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर रांची के अलग-अलग थानों में दर्ज की गई है. डोरंडा थाने में दर्ज एफआईआर कांड संख्या 149/22 में 10 लोगों के खिलाफ नामजद और 27 अज्ञात लोगों पर एफआईआर दर्ज है. नामजद आरोपियों में से एक मोहम्मद आरिफ ने रांची सिविल कोर्ट में न्यायिक दंडाधिकारी की कोर्ट में जमानत की गुहार लगाई थी. आरोपी मोहम्मद आरिफ पर आईपीसी की धारा 147, 149, 341, 427, 295(A), 120(B) लगायी गई है.

 

Sanjeevani

क्या है पूरा मामला

MDLM

10 जून को पैगंबर विवाद के बाद झारखंड के रांची में जमकर बवाल हुआ था. हंगामा तोडफोड़ और आगजनी के बाद इंटरनेट सेवाएं बंद तक कर दी गई थी. रांची में ​​​​​​जुमे की नमाज के बाद हुई हिंसा की घटना हुई थी सभी जिलों की पुलिस को अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए गए थे. रांची में मेन रोड में सुजाता चौक से अलबर्ट एक्का चौक तक धारा 144 लागू कर दिया गया था. हिंसा के दौरान दो लोगो की मौत हो गई थी साथ ही दर्जनभर से अधिक लोग घायल भी हुआ थे. इस धटना में पुलिस के कई पदाधिकारी और जवान भी घायल हुए थे.

Related Articles

Back to top button