न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

साहब आरयू के वीसी हैं या सरकार के सिपाही! कैंपस में सरकार विरोधी कोई प्रदर्शन ना हो इसलिए मांगी सुरक्षा

छात्र संघ चुनाव के लिए भी नहीं दे रहे हरी झंडी

555

Ranchi: रांची विवि के कुलपति रमेश कुमार पांडेय ने सरकार को पत्र लिखकर अपने कैंपस में सुरक्षा मांगी है. जिसके लिए सुरक्षा मांगी गयी है वो वजह काफी हैरान करने वाला है. कुलपति ने सरकार को पत्र लिखते हुए कहा है कि विवि के कैंपस में कोई किसी भी तरह की सरकार विरोधी गतिविधि न हो इसके लिए सुरक्षा दी जाए. इनकी बातों और मांगों पर अगर अमल हो जाए तो फिर छात्र और शिक्षक कैंपस में सरकार के कार्यों का न विरोध कर पाएंगे और न ही प्रदर्शन.

कुलपति की निष्पक्षता पर भी उठ रहे सवाल

कुलपति के कारण ही दिसंबर में हो जाने वाले चुनाव को अब तक नहीं कराया गया है. कुलपति का इस तरह का सरकार से मांग करना उनकी निष्पक्षता पर सवाल उठाता है. विदित हो कि आज ही डीके पांडेय सबका साथ सबका विकास वाली टैगलाइन का इस्तेमाल कर ट्रोल हो रहे हैं. दो महत्वपूर्ण पद पर काबिज लोगों का इस तरह का बयान और पत्र सरकार के प्रति उनके झुकाव पर मुहर लगा रहा है.

इसे भी पढ़ें- नेट की परीक्षा 8 जलाई को, इस बार दो पेपर की होगी परीक्षा, प्रत्येक पेपर होगा 100 अंक का

छात्रों को सरकार के पक्ष में रहने को बाध्य करना असंवैधानिक
विवि प्रशासन और कुलपति खुद छात्रों या शिक्षकों को सरकार के पक्ष में रहने के लिए कभी भी बाध्य नहीं कर सकते. ऐसा करना छात्रों के मौलिक अधिकारों का हनन होगा. छात्र राजनीति जब देश की राजनीति की पाठशाला कही जाती है ऐसे में कैसे कुलपति रमेश कुमार पांडेय ने सरकार विरोधी कोई प्रदर्शन या विरोध न हो, इस एवज में सुरक्षा की मांग की है. कुलपति क्या सरकार के गुड फेथ में रहने के लिए ये सब कर रहे हैं ?

_4b9c97de-d21e-11e6-a11a-def9b3756538
सरकार विरोधी प्रदर्शन न हो, इसके लिए कुलपति ने मांगी सुरक्षा

दिसंबर में ही हो जाना था छात्र संघ चुनाव
रांची विवि छात्र संघ का चुनाव दिसंबर में ही करा लिया जाना था. चुनाव की तिथि घोषित करने के लिए कुलपति को अधिकृत किया गया था. उस वक्त विशेष परिस्थितियों का हवाला देकर चुनाव को टाल दिया गया. उस दौरान कुलपति ने कहा था कि चुनाव जल्द ही कर लिए जाएंगे. छह माह बीत जाने के बाद भी चुनाव को लेकर संशय बरकरार है. कुलपति इसको लेकर कोई दिलचस्पी नहीं दिखा रहे हैं. या यूं कहें तो जानबुझकर चुनाव को लटकाया जा रहा है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर 

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: