Crime NewsJharkhandRanchiTOP SLIDER

साइबर क्राइम कैपिटल बनने की ओर रांची, जामताड़ा को भी पीछे छोड़ा

पिछले छह महीने में 57 मामले हुए हैं दर्ज, अब तक सिर्फ एक की गिरफ्तारी हुई

Ranchi : राजधानी रांची साइबर क्राइम की कैपिटल बनने की ओर अग्रसर है. साइबर अपराध के मामलों में जामताड़ा को पछाड़ कर अब रांची आगे निकल गया है. साइबर अपराधियों ने राजधानी रांची को अपना गढ़ बना लिया है.

इसे भी पढ़ें :आशीर्वाद यात्रा पर निकले चिराग पासवान का दावा, बिहार में जल्द होंगे चुनाव

जामताड़ा में कुल 39 केस दर्ज किये गये

रांची जिला में साइबर अपराध के मामले में इस साल जनवरी माह से मई माह तक कुल 57 मामले दर्ज किए जा चुके हैं. ताज्जुब की बात तो यह है कि 57 मामले में अब तक सिर्फ एक की गिरफ्तारी हुई है.

advt

साइबर अपराधियों का गढ़ माने जाने वाला जामताड़ा में इस साल जनवरी माह से मई माह तक कुल 39 केस दर्ज किये गये और 93 साइबर अपराधियों को गिरफ्तार किया गया.

वहीं धनबाद में साइबर अपराध के 26 मामले दर्ज हुए, जिसमें 13 आरोपी पकड़े गये. जमशेदपुर में 23 केस दर्ज किये गये, जिसमें चार आरोपी पकड़े गये.

adv

इसे भी पढ़ें :मंत्री पद से हटाए जाने के बाद पहली बार पटना पहुंचे रविशंकर प्रसाद, समर्थकों ने घेरा

साइबर अपराधी बल्क मैसेज एप का करती है प्रयोग

साइबर अपराधी बल्क मैसेजिंग ऐप का इस्तेमाल कर एक साथ सैकड़ों लोगों को मैसेज भेजते हैं. इस ऐप के जरिए भेजा गया मैसेज भी कंपनी के मैसेज की तरह ही होता है, जिस कारण लोग इसके झांसे में आ जाते हैं.

मैसेज के लिंक पर क्लिक करते ही आपका मोबाइल या कंप्यूटर हैक हो सकता है. इसके बाद मोबाइल व कंप्यूटर की डाटा चोरी के अलावा मनी वॉलेट से खाता खाली सकते हैं.

इसे भी पढ़ें :बिहार IMA अध्यक्ष डॉ. पीसी सिन्हा के घर डकैती, बेटी की शादी के लिए रखे गहने उड़ाये

साइबर अपराधी कंपनियों के बल्क मैसेज भेज कर ठगी कर रहे है. साइबर डीएसपी यशोधरा ने कहा कि लोगों को अनजान मैसेज से सतर्क रहने की आवश्यकता है. जो लोग भी बैंक के अधिकारी बन कर बैंक के डिटेल्स मांगते है तो वैसे व्यक्ति के खिलाफ लोग साइबर थाने में मामला दर्ज करा सकते हैं.

साइबर डीएसपी ने कहा कि साइबर अपराधी सोशल मीडिया का प्रयोग कर साइबर अपराध की घटना को अंजाम दे रहे हैं इससे लोगों को सतर्क रहने की आवश्यकता है.

इसे भी पढ़ें :कर्नाटक के CM बीएस येदियुरप्पा की जल्द हो सकती है विदाई, जाने किसे मिल सकता है मौका

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: