Crime News

#Ranchi: बिना हेलमेट पहने बाइक चला रहे थे तीन युवक, ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने रोका तो करने लगे मारपीट

Ranchi: कोतवाली थाना क्षेत्र के मेन रोड स्थित रांची यूनिवर्सिटी के पास बिना हेलमेट के एक बाइक पर सवार होकर जा रहे तीन युवकों को रोकने पर तीनों ने ट्रैफिक पुलिसकर्मी निरंजन कुमार से मारपीट की.

Jharkhand Rai

देखें वीडियो-

बताया जा रहा है पुलिसकर्मी के साथ मारपीट करनेवाले तीनों युवक हिंदपीढ़ी के रहनेवाले हैं. जिनमें दानिश, जीशान और अरसलान शामिल हैं. पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दो युवकों जीशान और अरसलान को गिरफ्तार कर लिया. दानिश मौके से फरार हो गया.

इसे भी पढ़ें – स्किल समिट में युवाओं को मिला धोखा क्यों न बने चुनावी मुद्दा: पहले चरण के छह जिलों से 19600 को मिली नौकरी, 1900 ही कर रहे काम

Samford

बिना हेलमेट पहने जा रहे थे, रोकने पर की मारपीट

मिली जानकारी के अनुसार दानिश, जीशान और अरसलान एक ही बाइक पर बिना हेलमेट पहने जा रहे थे. इसी दौरान रांची यूनिवर्सिटी के पास ट्रैफिक पोस्ट पर तैनात पुलिसकर्मी निरंजन कुमार ने रोका तो इतने में ही युवक ने पुलिसकर्मी से कहा कि अभी 3 महीने के लिए चेकिंग रोक दी गयी है. हेलमेट नहीं पहने हैं तो क्या हुआ.

इतने में ही बात बढ़ी और युवकों ने पुलिसकर्मी को धक्का दिया. उनके साथ मारपीट भी करने लगे. जिसके बाद अन्य ट्रैफिक पुलिसकर्मियों ने आकर ट्रैफिक पुलिसकर्मी को बचाया और दो युवकों को पकड़ कर कोतवाली थाना के हवाले किया. ट्रैफिक सिपाही ने लिखित रूप से थाना में मामला दर्ज कराया है और मामले कि जांच की जा रही है.

इसे भी पढ़ें- #JharkhandElection: कांग्रेस ने पहले चरण के लिए सभी 6 सीटों पर प्रत्याशी की घोषणा की, पांकी से देवेंद्र सिंह बिट्टू को टिकट

राजधानी में इन दिनों पुलिस के खिलाफ आक्रामक हो रहे लोग

राजधानी में इन दिनों आम लोग ट्रैफिक पुलिस और जिला पुलिस के खिलाफ आक्रामक हो रहे हैं. राजधानी की सड़कों पर पुलिस के साथ विवाद तो आम बात है, लेकिन अब लोग पुलिस जवानों के कॉलर पकड़ कर उनके साथ  मारपीट कर रहे हैं.

गाली-गलौज भी कर रहे हैं. घटनाओं से एक बात और भी स्पष्ट है कि आम लोग कानून को अपने हाथ में उठाने से बाज नहीं आ रहे हैं. हाल के दिनों में एक और बात सामने आयी है कि घटना के बाद मामले में पुलिस की सख्ती भी आम लोगों के खिलाफ बढ़ी है.

पुलिस अफसर मामले में केस भी दर्ज करवा रहे हैं और पुलिस आम लोग को न्यायिक हिरासत में जेल भी भेज रही है.

इसे भी पढ़ें – संजीवनी बिल्डकॉन का घोटालेबाज जयंत दयाल नंदी 7 साल से फरार, नहीं ढूंढ पा रही पुलिस और CBI

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: