Ranchi

#Ranchi: कांके में पुलिसकर्मियों पर हुए हमले पर पुलिस मुख्यालय सख्त, दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के आदेश

Ranchi: शहर के कांके थाना क्षेत्र के नगड़ी गांव में रविवार को कांके थाना प्रभारी सहित तीन पुलिसकर्मियों पर हमला हुआ था. पुलिसकर्मियों पर हुए हमले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस मुख्यालय ने रांची एसएसपी को दोषियों पर सख्त कार्रवाई करने का आदेश दिया है.

पुलिस मुख्यालय ने रांची एसएसपी को आदेश देते हुए कहा है कि घटना के जिम्मेदार लोगों को चिन्हित कर उनके विरुद्ध सख्त कानूनी कार्रवाई सुनिश्चित करें.

advt

इसे भी पढ़ेंःऔरैया हादसाः शवों के साथ ट्रक में घायल मजदूरों को यूपी सरकार ने भेजा, झारखंड सीएम के ट्वीट के बाद हरकत में आया प्रशासन

बता दें कि रविवार को दो गुटों के बीच हुए झड़प को शांत कराने पहुंची कांके थाना की पुलिस पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया था. इस हमले कांके के थाना प्रभारी सहित तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए थे.

पुलिस की गाड़ी को भी किया गया था क्षतिग्रस्त

कांके थाना क्षेत्र स्थित नगड़ी गांव में दो गुटों के बीच हुई झड़प की सूचना पर कांके थाना प्रभारी विनय कुमार पुलिस बल के साथ नगडी गांव पहुंचे थे. उस समय उग्र ग्रामीण राजा खान के कार्यालय में तोड़फोड़ कर रहे थे. इसके बाद पुलिस ने अंदर जाकर राजा को बाहर निकाला, ग्रामीणों को लगा कि पुलिस उसे बचा रही है तब ग्रामीणों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया.

इसमें थाना प्रभारी विनय कुमार सहित तीन पुलिसकर्मी घायल हो गए. औऱ पुलिसकर्मी की गाड़ी भी क्षतिग्रस्त हो गई. कुछ देर बाद अतिरिक्त पुलिस बल मौके पर पहुंची और ग्रामीणों को शांत कराया.

इसे भी पढ़ेंःमहाराष्ट्रः 24 घंटे में कोविड-19 के 2347 नये मरीज, संक्रमण का टूटा रिकॉड, आंकड़ा 33 हजार के पार

जमीन विवाद के बिंदुओं पर भी जांच शुरू

दो गुटों के बीच हुई झड़प में पुलिस ने जमीन विवाद के बिंदुओं पर भी जांच शुरू कर दी है. शुरुआती जांच में पता चला है कि सद्दाम नाम का युवक किसी जमीन पर काम कर रहा है. उस जमीन को लेकर उसका कई लोगों से पहले भी विवाद हो चुका है, जमीन को लेकर सद्दाम और शमशाद के बीच क्या मामला है इसका पता जांच पूरी होने के बाद ही चलेगा.

फिलहाल मारपीट और गोली चलाने के मामले में पुलिस जांच कर रही है. बता दें कि कांके थाना क्षेत्र स्थित नगड़ी गांव में रविवार को पान दुकानदार शमशाद अंसारी ने उधार में दिए पांच हजार रुपया सद्दाम अंसारी से मांगे जिसके बाद विवाद गहरा गया. अपराधियों ने इस दौरान तीन-चार राउंड फायरिंग भी की. खबर है कि सद्दाम और उसके साथी शमशाद की गोली मारकर हत्या करना चाहते थे, लेकिन वह बाल-बाल बच गया.

इसे भी पढ़ेंः#Palamu: महाराष्ट्र से लौटे अधेड़ की कोरोना जांच के लिए ले जाने के दौरान मौत, 2 घंटे सड़क पर तड़पता रहा

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: