JharkhandLead NewsRanchi

Ranchi News: डेढ़ गुना टैक्स बचाने के लिये 48 हजार ने कराया कैंपस में रेन वाटर हार्वेस्टिंग

2 लाख 10 हजार हाउस होल्डर है रांची नगर निगम एरिया में

Ranchi: राजधानी में ग्राउंड वाटर लेवल तेजी से नीचे जा रहा है. सिटी के कई इलाकों में पानी की किल्लत होने लगी है, जबकि कुछ इलाके तो ड्राई जोन में तब्दील हो चुके हैं. जहां केवल बारिश के दिनों में ही पानी का लेवल कुछ ठीक होता है. बाकी के दिनों में पानी के लिए सप्लाई और नगर निगम के टैंकर का ही सहारा है.

इसे भी पढ़ें : रूपा तिर्की के माता-पिता को सुरक्षा मुहैया कराने का हाई कोर्ट का निर्देश

इस स्थिति से निपटने के लिए ही रांची नगर निगम ने सिटी में रेन वाटर हार्वेस्टिंग को अनिवार्य किया ताकि लोग अपने घरों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग कराए और ग्राउंड वाटर लेवल बढ़ाने में सहयोग करे. लेकिन आजतक सिटी में 48,000 लोगों ने ही डेढ़ गुना टैक्स बचाने के लिए रेन वाटर हार्वेस्टिंग कराया है.

चूंकि रेन वॉटर हार्वेस्टिंग नहीं करने वालों से निगम डेढ़ गुना टैक्स वसूल रहा है. बताते चलें कि नगर निगम ने लोगों से अपील की है कि जिनके पास रेन वाटर हार्वेस्टिंग बनाने की जगह है वे अपने घरों में बना सकते हैं चाहे उनका घर 300 स्क्वायर मीटर से कम ही क्यों ना हो.

advt

आधे सरकारी भवनों ने कराया रेन वाटर हार्वेस्टिंग

नगर निगम ने सिटी में रेन वाटर हार्वेस्टिंग कराना अनिवार्य कर दिया है. जिसके तहत 300 स्क्वायर मीटर से अधिक एरिया में बने भवनों को कैंपस में हर हाल में रेन वाटर हार्वेस्टिंग कराने को कहा गया है.प्राइवेट भवनों ने तो रेन वाटर हार्वेस्टिंग करा लिया, लेकिन सरकारी भवन ही इसमें पीछे रह गए हैं. इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि अब तक 50 परसेंट सरकारी भवनों में ही रेन वाटर हार्वेस्टिंग कराया है.

इसे भी पढ़ें :महामुकाबलाः WTC चैंपियनशिप में भारत व न्यूजीलैंड की भिड़ंत कल से, दोनों टीमें तैयार

डेढ़ गुना टैक्स वसूलने का प्रावधान

कैंपस में रेन वाटर हार्वेस्टिंग कराने वाले हाउस होल्डर को होल्डिंग टैक्स में छूट दी जा रही है. जिन्होंने 300 स्क्वायर मीटर से अधिक एरिया में भवन होने के बावजूद रेन वाटर हार्वेस्टिंग नहीं कराया है उनसे डेढ़ गुना टैक्स तबतक वसूलने का आदेश दिया गया है जबतक कि वे इसका निर्माण न करा लें. वहीं निर्माण कराने के बाद शपथपत्र भी निगम में जमा कराना है, जिससे कि टैक्स में छूट का फायदा मिल सके.

2 लाख 10 हजार में 48000 ने कराया

नगर निगम एरिया में 2 लाख 10 हजार हाउस होल्डर्स रजिस्टर्ड हैं, जिसमें से 48 हजार भवनों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग का दावा नगर निगम कर रहा है. इसके बाद भी सिटी में ग्राउंड वाटर लेवल गिरता जा रहा है. यही वजह है कि वाटर लेवल बढ़ने के बजाय कम होता जा रहा है. वहीं बचे हुए लोग रेन वाटर हार्वेस्टिंग कराने के बजाय टैक्स देना ही बेहतर समझ रहे हैं और निगम को डेढ़ गुना टैक्स भर रहे है.

हर वार्ड में कम्युनिटी रेन वाटर हार्वेस्टिंग

रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम कराने में लोगों का इंटरेस्ट नहीं होने की वजह से वाटर लेवल नीचे जा रहा है. अब इससे निपटने के लिए रांची नगर निगम की ओर से सभी वार्डो में 6-6 रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बनाने की योजना है. साथ ही वैसी जगह जहां पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग नहीं बनाया जा सकता, वहां पर कम्युनिटी रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बनाया जाएगा. जिससे कि वार्डों में ग्राउंड वाटर लेवल रिचार्ज होता रहे.

अपार्टमेंट मालिकों को नोटिस की तैयारी

राजधानी के कई अपार्टमेंट ऐसे है जहां रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम नहीं लगा है. नगर निगम के अधिकारी इस मामले में अब एक्शन लेने की तैयारी कर रहे है. ऐसे अपार्टमेंट के मालिकों को नोटिस जारी करने की तैयारी हो रही है. जहां रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम नहीं लगाया गया. जिससे कि वे अपने कैंपस में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम करा ले.

इसे भी पढ़ें : एक्ट्रेस स्वरा भास्कर और ट्विटर इंडिया के एमडी के खिलाफ शिकायत दर्ज, जानें  बुजुर्ग पिटाई मामले से क्या है कनेक्शन ?

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: