JharkhandLead NewsRanchi

Ranchi News : मेयर ने 4 बार बुलाई बैठक, नहीं आए अधिकारी, नगर विकास सचिव से की कार्रवाई की मांग

-अब 19 अप्रैल को गूगल मीट पर होगी बैठक, लेटर का भी अबतक नहीं मिला जवाब

  • कोरोना और जन समस्याओं पर होनी थी चर्चा

Ranchi : कोरोना संक्रमण की लहर शहर में तेजी से चल रही है. इस बीच शहर में पीने के पानी और सैनिटाइजेशन भी कराया जाना है. इसे लेकर मेयर आशा लकड़ा ने इस महीने में रांची नगर निगम के नगर आयुक्त समेत अधिकारियों की चार बार बैठक बुलाई. लेकिन किसी भी बैठक में न तो नगर निगम के अधिकारी शामिल हुए और न ही कोई कर्मी उनकी बैठक में आय़ा. इसे लेकर मेयर ने अधिकारियों को पत्राचार कर जवाब भी मांगा. पर किसी ने भी अब तक कोई जवाब नहीं दिया है. ऐसे में मेयर ने नगर विकास सचिव को पत्र लिखकर ऐसे अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग की है, जिससे कि भविष्य में ऐसा न हो.

इसे भी पढ़ें :इधर बेड तैयार जिसका इस्तेमाल नहीं, दूसरी ओर नए बेड तैयार करने का आदेश

अधिनियम के तहत बुलाई गई थी बैठक

झारखंड नगरपालिका अधिनियम में निहित प्रावधानों के तहत ही मेयर ने नगर आयुक्त को पत्राचार कर स्थाई समिति की आपात बैठक बुलाने का निर्देश दिया था. लेकिन नगर आयुक्त ने पार्षदों के द्वारा दिए पत्र से संबंधित फाइल भी अग्रसारित नहीं की. मेयर ने कहा कि नगर आयुक्त न तो झारखंड नगरपालिका अधिनियम में निहित प्रावधानों का अनुपालन कर रहे हैं और न ही मेयर के निर्देशों का सम्मान कर रहे है.

कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रसार के रोकथाम के लिए स्थाई समिति की आपात बैठक को भी उन्होंने गंभीरता से नहीं लिया. स्थाई समिति की आपात बैठक में वार्डों में सफाई, सैनिटाइजेशन, सफाईकर्मियों की सुरक्षा, पीपीई किट, मास्क, हैंड ग्लव्स, सैनिटाइजर, सोडियम हाइपोक्लोराइट केमिकल की उपलब्धता व भविष्य जरूरतों समेत कोरोना मरीजों के लिए एक हज़ार ऑक्सीजन सिलेंडर की खरीदारी जैसे विषयों पर चर्चा की जानी थी.

इसे भी पढ़ें :हालात बदतर, केंद्रीय मंत्री जनरल वीके सिंह को भी कोरोना संक्रमित शख्स के लिए लगानी पड़ी मदद की गुहार

17 अप्रैल को होने वाली स्थाई समिति की आपात बैठक अब फिर से 19 अप्रैल को 12 बजे से मेयर आशा लकड़ा की अध्यक्षता में होगी. यह बैठक वर्चुअल होगी और गूगल मीट से सभी लोग इसमें ऑनलाइन शामिल होंगे. अब देखना यह होगा कि इसमें भी नगर निगम के अधिकारी शामिल होते है या नहीं. चूंकि नगर निगम पिछले कई दिनों से बुलाई जा रही बैठकों में अधिकारी व कर्मचारी शामिल नहीं हुए. हालांकि अपर नगर आयुक्त ने स्थाई समिति की आपात बैठक से संबंधित पत्र भी जारी करते हुए सूचना समिति के सभी सदस्यों को दे दी है.

इसे भी पढ़ें :Corona Update: मंत्री मनसुख एल मंडाविया ने कहा, 15 दिनों में रेमडेसिविर का उत्पादन होगा दोगुना 

कब-कब बुलाई गई थी बैठक

1 और 5 अप्रैल

मेयर आशा लकड़ा ने पेयजल संकट की समस्या के समाधान के लिए जलापूर्ति व स्वास्थ्य शाखा के अधिकारियों के साथ बैठक बुलाई थी. इससे पहले ही मेयर ने नगर आयुक्त समेत जलापूर्ति व स्वास्थ्य शाखा के अधिकारियों को बैठक की सूचना पत्र के माध्यम से दे दी थी. मेयर इंतजार करती रही, न तो नगर आयुक्त पहुंचे और न ही जलापूर्ति व स्वास्थ्य शाखा के अधिकारी. वहीं 5 अप्रैल को फिर बैठक बुलाई गई लेकिन उसमें भी कोई नहीं आया.

इसे भी पढ़ें :सांसद वीडी राम ने पलामू-गढ़वा को दिए 15-15 लाख, कोरोना के खिलाफ लड़ाई के लिए दिए फंड

7 अप्रैल 2021

मेयर की अध्यक्षता में सफाई, सैनिटाइजेशन और फॉगिंग की तैयारी को लेकर बैठक बुलाई गई थी. दोपहर दो बजे से मेयर अपने कार्यालय में इंतज़ार करती रही. फिर भी न तो नगर आयुक्त पहुंचे और न ही रांची नगर निगम के अन्य अधिकारी. मेयर ने कहा कि वे सिर्फ और सिर्फ अपनी मनमानी करना चाहते हैं. बैठक नहीं कराना है तो लिखित जवाब दें.

 

17 अप्रैल

राजधानी में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रसार की रोकथाम के लिए स्थाई समिति की आपात बैठक बुलाई गई थी. बैठक के लिए शुक्रवार को ही नगर आयुक्त व अपर नगर आयुक्त को पत्र भेजा गया था. अब नगर आयुक्त कह रहे हैं कि उन्हें न तो पत्र मिला और न ही कोई जानकारी दी गई. जबकि नगर आयुक्त के कार्यालय में शुक्रवार को 11 बजे पत्र रिसीव किया गया था.

 

Related Articles

Back to top button