Crime NewsJharkhandLead NewsRanchi

Ranchi News : शराब माफिया लाला ने खोले 22 लोगों की जान लेनेवाले धंधे के कई राज

जहरीली शराब से 22 मौतों के बाद भी नरेश सिंघानिया ने चालू रखा था धंधा  

Ranchi :  नामकुम के जोरार के रहने वाले शराब माफिया नरेश सिंघानिया उर्फ लाला को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. पुलिस से हुई पूछताछ में आरोपी नरेश सिंघानिया ने खुलासा किया है कि वह वेश बदलकर नामकुम थाना क्षेत्र में रहता था. स्थानीय लोग उसे पहचान नहीं लें, इसके लिए वह कभी कैप लगाकर घूमता था तो कभी कुछ और. वह लोवाडीह में केबुल का कारोबार भी करता है. दिनभर से वह लोवाडीह में रहकर उसी कारोबार संचालित करता था. शाम होते ही वेश बदल वह अपने जोरार स्थित घर चला जाता था. सुबह होते ही वह फिर से उसी वेष में लोवाडीह लौट आता था.

इसे भी पढ़ें :रांची के हरमू बाजार में लगी आग, पूजा सामग्री की दो दुकान सहित पांच दुकानें राख

बड़े भाई प्रह्लाद सिंघानिया के यहां होती थी पैंकिंग

Catalyst IAS
ram janam hospital

नरेश ने पुलिस को बताया कि वह अवैध शराब की अलग से फैक्ट्री चलाता था. उस फैक्ट्री में शराब बनाकर अपने बड़े भाई प्रह्लाद सिंघानिया के यहां पैंकिंग कराकर बाजार में बेच देता था. पूछताछ में आरोपी ने अपने अन्य साथियों के नामों का भी खुलासा किया है. इधर, पुलिस उन आरोपियों के नामों का सत्यापन कर रही है.

The Royal’s
Sanjeevani

नाम बदल कर चलाता रहा कारोबार

रांची में जहरीली शराब से 22 लोगों की हुई मौत के बाद भी आरोपी नरेश सिंघानिया ने अवैध शराब का कारोबार को बंद नहीं किया था. इस घटना के बाद उसने अपना नाम तब बदल दिया, जब उसका नाम सामने आया. वह लाला के नाम से अवैध शराब का कारोबार चला था.

इसे भी पढ़ें :महिला सिपाही से मारपीट मामले में महिला थाना प्रभारी लाइन हाजिर

सप्लाई के लिए दूसरों के नाम से सेकेंड हैंड गाड़ियां खरीदीं

नरेश ने बताया कि रांची के कई इलाकों में वह अवैध शराब की सप्लाई करता है. शराब की सप्लाई के लिए उसने सेकेंड हैंड गाड़ियां भी खरीद रखी है. सभी गाड़ियां दूसरे के नाम से ली है. अगर गाड़ी को पुलिस पकड़ भी लेती थी तो वह उसे छुड़ाने के लिए कभी नहीं जाता था. इस वजह से वह कभी पुलिस की नजर में नहीं आ सका.

साथ काम करने वालों ने शुरू कर लिया अपना धंधा

आरोपी नरेश ने पुलिस को बताया कि अवैध शराब के कारोबार में उनके साथ कई लोग शामिल थे. 2017 के बाद सभी ने उनका साथ छोड़ दिया. ये लोग अब खुद की अवैध शराब बनाने की फैक्ट्री खोलकर बाजार में बेच रहे हैं. पूछताछ में आरोपी नरेश ने अवैध शराब का धंधा करने वालों के नामों का भी खुलासा किया है.

इसे भी पढ़ें : इस चोर के क्या कहने, पहले बुलेट चोरी की, फिर पहुंचा रजिस्ट्रेशन पेपर ठगने

Related Articles

Back to top button