Crime NewsJharkhandRanchi

Ranchi News : फर्जी जन्म व मृत्यु प्रमाण पत्र मामले में पुलिस आज तक नहीं कर पाई अनुसंधान

Ranchi : शहर में साइबर अपराधी घटना को अंजाम देकर फरार हो जाते हैं वहीं पुलिस साइबर आपराधिक मामलों के अनुसंधान को लेकर गंभीर नहीं दिखती है. साइबर अपराधी केंद्र सरकार द्वारा विकसित सिविल रजिस्ट्रेशन सिस्टम (सीआरएस) पोर्टल में सेंधमारी कर फर्जी जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र बना लेते हैं लेकिन पुलिस इस मामले में किसी भी साइबर अपराधी को गिरफ्तार नहीं कर पायी है. साइबर अपराधियों ने कुल 29 फर्जी जन्म व मृत्यु प्रमाण पत्र बना लिए थे.

साइबर अपराधियों ने सदर हॉस्पिटल के उपाधीक्षक सह जन्म-मृत्यु के उप निबंधक सव्यसाची मंडल की आईडी और पासवर्ड हैक कर 22 जन्म प्रमाण पत्र और 7 मृत्यु प्रमाण पत्र बनाए हैं. मंडल ने ऑनलाइन जारी किए गए प्रमाण पत्र की संख्या के आधार पर गड़बड़ी पकड़ी.

इसे भी पढ़ें :कांग्रेस आलाकमान ने कैप्टन अमरिंदर सिंह का मांगा इस्तीफा, पंजाब की सियासत में हलचल तेज

लोअर बाजार थाना में दर्ज हुई है प्राथमिकी

इस मामले को लेकर डॉक्टर मंडल ने लोअर बाजार थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई थी. साथ ही जिला सांख्यिकी पदाधिकारी को बनाए गए फर्जी प्रमाण पत्रों की सूची सौंपते हुए आगे की कार्रवाई करने का आग्रह किया था.

इसे भी पढ़ें :प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन पर बाबा मंदिर में जलाये गये 51 सौ दीपक

ऐसा पता चला फर्जीवाड़ा

सदर हॉस्पिटल के उपाधीक्षक सव्यसाची मंडल के अनुसार, जब उन्होंने अपना यूजर आईडी लॉग-इन किया तो जारी किए गए जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्रों के सीरियल नंबर में अंतर पाया. जांच में डॉक्टर मंडल ने पाया कि जितने जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र उन्होंने जारी किए हैं, उससे अधिक सीरियल नंबर दिख रहे हैं. उन्होंने इसकी सूचना जिला सांख्यिकी पदाधिकारी (डीएसओ) को देते हुए अपना यूजर आईडी और पासवर्ड हैक करने की बात कही थी.

इसे भी पढ़ें :करम डाल लेकर लौट रहा युवक रोरो नदी में बहा, अगली सुबह बरामद हुआ शव

क्या कहती है पुलिस

इस मामले को लेकर लोअर बाजार थाना प्रभारी संजय कुमार ने बताया कि फिलहाल इस मामले की अनुसंधान किया जा रहा है. थाना प्रभारी ने कहा कि कई लोगों से पूछताछ की गई है लेकिन इस मामले में अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है. वहीं साइबर डीएसपी यशोधरा ने कहा कि इस मामले का तेजी से अनुसंधान किया जाएगा और जल्द ही अपराधियों को पुलिस गिरफ्तार कर लेगी.

Related Articles

Back to top button