JharkhandLead NewsRanchiTOP SLIDER

Ranchi News: पेट्स का नहीं कराया रजिस्ट्रेशन तो मालिक को लगेगा जुर्माना, पेट्स पर भी टैक्स वसूलेगा निगम

Ranchi: अगर आप भी PETS लवर हैं, घर में कुत्ता-बिल्ली पाल रखा है तो अब इसके लिए भी आपको टैक्स देना होगा. जी हां, रांची नगर निगम ने अब पेट्स का रजिस्ट्रेशन अनिवार्य कर दिया है. अब नगर निगम के पास जानकारी उपलब्ध होगी कि शहर में कितने पेट्स हैं. पेट्स का रजिस्ट्रेशन नहीं कराने पर मालिक से जुर्माना वसूलने की तैयारी है. बताते चलें कि रांची नगर निगम ने पेट्स के रजिस्ट्रेशन और उसके वैक्सीनेशन का काम होप एंड एनिमल ट्रस्ट को दिया है. निगम ने इसके लिए हेल्पलाइन नंबर 9431171929 भी जारी कर दिया गया है जिससे लोग घर बैठे भी अपने PET का रजिस्ट्रेशन करा सके.

इसे भी पढ़ेंःरूपा तिर्की मौत मामलाः झारखंड हाईकोर्ट में मामले की सुनवाई हुई,  अगली सुनवाई 31 अगस्त को

advt

100 रुपए है रजिस्ट्रेशन चार्ज

पेट्स का रजिस्ट्रेशन एक साल के लिए होगा, जिसका चार्ज 100 रुपए रखा गया है. इसके बाद हर साल पेट्स का रजिस्ट्रेशन रिन्युअल कराना होगा. जिससे कि निगम के पास शहर में पेट्स की जानकारी होगी. इसके अलावा वैक्सीनेशन का कार्ड भी अपडेट रखना होगा. बताते चलें कि शहर में पेट्स का कारोबार भी तेजी से बढ़ रहा है. ब्रीडिंग कराकर लोग भारी कीमतों पर इसकी खरीद-बिक्री कर रहे है. ऐसे में रजिस्ट्रेशन कराकर नगर निगम की राजस्व जुटाने की तैयारी है.

बाहर निकलने पर लगाना होगा बैच

अगर पेट्स को बाहर घुमाने के लिए लेकर निकलते हैं तो उसे बैच लगाना होगा. जिससे कि पता चल सकेगा कि आपका पेट रजिस्टर्ड है या नहीं. वहीं जिस पेट्स का बैच पास में नहीं होगा तो उसपर भी कार्रवाई की जाएगी. ऐसे में अब पेट्स ओनर को हर समय अलर्ट रहना होगा. वहीं साथ में पेट्स का बैच भी लेकर चलना होगा.

इसे भी पढ़ेंः National Corona Update: केरल की वजह से देश में संक्रमितों की संख्या में भारी बढ़ोतरी, 46 हजार से अधिक नये मामले मिले

ट्रीटमेंट और वैक्सीनेशन फैसिलिटी

पेट्स की तबीयत खराब है या फिर उसे वैक्सीनेट नहीं किया गया है तो इसके लिए भी होप एंड एनिमल सर्विस दे रहा है. जिसके लिए ओनर को अपने डॉग को लाकर सेंटर में छोड़ना होगा. जहां ट्रीटमेंट से लेकर दवाएं उपलब्ध कराई जाएगी. वहीं डॉक्टर भी रेगलुर मॉनिटर करेंगे. इसका चार्ज भी ओनर को ही देना होगा.

 

अब तक मात्र 18 ने कराया रजिस्ट्रेशन

शहर में पेट्स डॉग को रखने का चलन तेजी से बढ़ा है. वहीं कोरोना के बाद तो लोग पेट्स के साथ ज्यादा टाइम बिताना पसंद कर रहे हैं. एक से बढ़कर एक ब्रीड के डॉग्स को अपने फैमिली का हिस्सा भी बना रहे हैं. लेकिन रजिस्ट्रेशन कराने में उनका इंटरेस्ट नहीं है. इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि अबतक रांची सिटी में मात्र 18 लोगों ने अपने पेट डॉग का रजिस्ट्रेशन कराया है.

Nayika

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: