न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रांचीः अधूरा पड़ा है बिरसा मुंडा एयरपोर्ट का नया एटीसी टर्मिनल

प्रत्येक दिन विभिन्न शहरों के लिए 26 फ्लाइट भरती हैं उड़ान

200

Ranchi: राजधानी के बिरसा मुंडा एयरपोर्ट परिसर में नया एयर ट्रैफिक कंट्रोल (एटीसी) टर्मिनल भवन पिछले छह माह से अधूरा पड़ा हुआ है. टर्मिनल भवन का काम ठेका लेनेवाली कंपनी की अनियमितता की वजह से बंद पड़ा है. भारतीय विमानन प्राधिकार (एएआई) की तरफ से अब नये कांट्रैक्टर की तलाश की जा रही है.

इसे भी पढ़ेंःवित्तीय संकट की ओर झारखंड ! 40.50 लाख करोड़ के ऑन गोइंग प्रोजेक्ट का बढ़ा कॉस्ट, खजाने में पैसे की कमी

क्षेत्रीय कार्यालय कोलकाता से अब तक नयी कंपनी को कार्यादेश निर्गत करने का आदेश जारी नहीं किया गया है. इसकी वजह से पुराने एटीसी भवन से ही विमानों का परिचालन किया जा रहा है. अलग झारखंड राज्य बनने के बाद से 200 करोड़ से अधिक की लागत से नयी दिल्ली की कंपनी आहलुवालिया कांट्रैक्ट्स की तरफ से एयरपोर्ट लाउंज, वेटिंग एरिया और अन्य आधारभूत संरचना का निर्माण किया गया था.

इसे भी पढ़ें- फाइनेंशियल क्राइसेस से गुजर रहा झारखंड, खजाने में पैसे की किल्लत ! 300 अफसरों-कर्मचारियों का…

इसी क्रम में नया एटीसी भवन भी बनाया जाना था. क्योंकि पुराने एटीसी भवन की ऊंचाई कम थी, जो विमानों की संख्या बढ़ने की वजह नाकाफी साबित हो रहे हैं.

निर्माण की गुणवत्ता नहीं रहने से रोका गया काम

silk_park

एयरपोर्ट परिसर में एटीसी भवन के निर्माण में गुणवत्ता बनाये नहीं रखने की वजह से काम रोक दिया गया था. इसके बाद वर्तमान निदेशक डॉ पी रंजन ने प्रबंधन से कांट्रैक्टर को हटाने की मांग की थी. अब नये सिरे से बचे हुए काम को पूरा करने के लिए नये संवेदक की तलाश की जा रही है. एयरपोर्ट परिसर में एटीसी भवन के अलावा विमानों को रखने के लिए अतिरिक्त एप्रोन का निर्माण भी किया जाना है, जिसका काम भी रूका हुआ है. डॉ रंजन ने बताया कि नया एटीसी भवन बनने से काफी परेशानियां कम हो जायेंगी. विमानों के परिचालन पर भी नजर रखी जा सकती है.

इसे भी पढ़ें- मैनहर्ट मामला: विजिलेंस ने मांगी 5 बार अनुमति, हाईकोर्ट का भी था निर्देश, FIR पर चुप रहीं राजबाला

प्रतिदिन 26 फ्लाइट भरती हैं उड़ान

राजधानी के बिरसा मुंडा एयरपोर्ट से प्रतिदिन 26 फ्लाइट उड़ान भरते हैं. सबसे अधिक नौ फ्लाइट नयी दिल्ली के लिए हैं. इसके लिए मुंबई, बेंगलुरू, कोलकाता, पटना के लिए सीधी विमान सेवा रांची से है. पुणे की कनेक्टिंग फ्लाइट भी रांची से उड़ान भरती है. सुबह 9 बजे से लेकर रात्रि 9.30 बजे तक बिरसा मुंडा एयरपोर्ट से एयर इंडिया, एयर विस्तारा, गो एयर, इंडिगो, एयर एशिया के विमान रांची से अपनी उड़ान विभिन्न गंतव्य के लिए भरते हैं.

इसे भी पढ़ेंःरांची जलापूर्ति योजना : 397 करोड़ खर्च हुए, फिर भी योजना के लाभ से महरूम हैं रांचीवासी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: