JharkhandRanchi

रांची नगर निगम ने सफाई एजेंसी सीडीसी को किया शोकॉज, एग्रीमेंट के तहत नहीं हो रहा काम

Ranchi :  रांची नगर निगम ने शहर में डोर टू डोर कलेक्शन का काम जयपुर की सेंटर फॉर डेवलपमेंट एंड कम्युनिकेशन (सीडीसी) को दिया है. लेकिन 10 महीने बीत जाने के बाद भी एजेंसी शहर की सफाई को बेहतर करने में नाकाम साबित हो रही है. वहीं एग्रीमेंट के अनुसार अबतक कई काम एजेंसी के द्वारा नहीं किए गए हैं, जिससे कि सफाई की मॉनिटरिंग आनलाइन की जा सके. अब नगर आयुक्त ने सीडीसी को शोकॉज जारी किया है. साथ ही पूछा है कि एग्रीमेंट के अनुसार अबतक काम को धरातल पर क्यों नहीं उतारा जा सका है.

इसे भी पढ़ेंः T20 World Cup 2021: पाकिस्तान की जीत के बाद शोएब और हरभजन के बीच छिड़ी जुबानी जंग, देखें Video

advt

एजेंसी के काम पर उठ रहे सवाल

शहर को साफ और स्वच्छ बनाने के उद्देश्य से जयपुर की एजेंसी को नगर निगम ने काम सौंपा. लेकिन एजेंसी ने नगर निगम की उम्मीदों पर पानी फेर दिया. वहीं पार्षदों ने भी एजेंसी के काम पर सवाल उठाते हुए नगर आयुक्त से कार्रवाई की मांग की थी. बताते चलें कि हर दिन डोर टू डोर वेस्ट कलेक्शन नहीं किए जाने को लेकर नगर निगम में सैकड़ों कंप्लेन आ रहे है.

इसे भी पढ़ेंः मुख्यमंत्री से मिला है आश्वासन, जल्द ही मॉब लिंचिंग पर बनेगा कानूनः इमरान प्रतापगढ़ी

 

इन बिंदुओं पर किया शोकॉज

 

  • 4 यूनिट रीसाइकिल रिकवरी सेंटर लगाने को दी गई जमीन, काम अबतक नहीं हुआ पूरा
  •  वेस्ट कलेक्शन की मॉनिटरिंग को हर घर में लगाना था पर रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटीटी डिवाइस (आरएफआइडी), लेकिन 4000 किए गए इंस्टाल
  • डोर टू डोर वेस्ट कलेक्शन के तहत सूखा और गीला कचरा अलग-अलग कलेक्ट करना था लेकिन नहीं हो रहा
  • डेली बेसिस पर सूखा और गीला कचरा करना था कलेक्शन, नहीं हो रहा
  • लोगों को जागरूक करते हुए उन्हें कंप्लेन के लिए कांटैक्ट नंबर जारी करना था, नहीं हुआ
  • सभी गाड़ियों में लगाना था पब्लिक एड्रेस सिस्टम, लेकिन नहीं लगा
  • सेकेंडरी कलेक्शन साइट पर कचरा का बिखराव किसी भी स्थिति में न होना, फिर भी बिखरा पड़ा है कचरा
  • डोर टू डोर कलेक्शन करने वाले स्टाफ को आईकार्ड, यूनिफार्म, ग्ल्ब्स और मास्क उपलब्ध कराना, नहीं दिया गया
  • हर घर को दो डस्टबिन का करना था वितरण, आजतक नहीं किया गया

इसे भी पढ़ेंः CMA इंटरमीडिएट और फाइनल के स्टूडेंट्स को दिसंबर 2021 की परीक्षाओं में मिल रहा ‘ऑप्ट-आउट’ विकल्प

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: