JharkhandKhas-KhabarRanchi

रांची: दूसरे राज्य से वापस लौटने वालों को होम क्वारेंटाइन जरूरी, उल्लंघन करने वाले 15 लोगों पर हो चुका है FIR

विज्ञापन
Advertisement

Ranchi :  राजधानी में इन दिनों कोरोना संक्रमित मरीजों का प्रसार काफी तेजी से हो रहा है. ऐसे में दूसरे राज्यों से झारखंड आने वाले लोगों की ओर से किसी भी लापरवाही से बड़ी समस्या खड़ी हो सकती है. इसके बावजूद भी घर लौटने वाले अपनों के साथ दूसरों की जान को खतरे में डालने से परहेज नहीं कर रहे हैं.

दूसरे राज्य से अपने घर लौटने वाले लोग सरकारी दिशा निर्देश की धज्जियां उड़ा रहे हैं. ऐसे लोगों पर जिला प्रशासन अब सख्ती भी बरत रहा है. राजधानी के अलग-अलग थानों की पुलिस ने क्वारंटीन व लॉकडाउन का उल्लंघन करने के आरोप में 15 लोगों के खिलाफ महामारी अधिनियम समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है.

इसे भी पढ़ें –CoronaGoodNews: सितंबर में दिल्ली में रह जायेंगे सिर्फ एक हजार केस! कंटेनमेंट जोन भी घटा

advt

झारखंड वापसी पर होना होगा होम क्वारेंटाइन, सरकार का है निर्देश

दूसरे राज्यों से रांची जिला/शहर में प्रवेश करने वाले व्यक्तियों द्वारा होम क्वारेंटाइन का अनुपालन करना आवश्यक है. इस बाबत राज्य सरकार ने संक्रमण रोकने के लिए कई बार दिशा-निर्देश जारी किये है. मुख्य सचिव के आदेश से जारी इस निर्देश में कहा गया है कि दूसरे राज्य से झारखंड आने वाले लोगों को होम क्वारेंटाइन रहना होगा.

इसपर रांची डीसी के निर्देशानुसार राज्य के बाहर से जिला या शहर में प्रवेश करने वाले व्यक्तियों के होम क्वारेंटाइन में रहने की जांच की जा रही है. जिला प्रशासन की टीम वापस लौटने वाले व्यक्ति के बताये पते पर जांच करने पहुंच रही है.

डेढ़ दर्जन लोगों पर किया जा चूका है FIR

22 मार्च: अरगोड़ा थानाक्षेत्र में विदेश से लौटे 2 भाइयों पर एफआईआर (FIR) दर्ज की गयी थी. इन्हें होम क्वारंटाइन में रहने के लिए कहा गया था, लेकिन दोनों भाई सड़कों पर घूमते पाये गये. सीओ की लिखित शिकायत पर दोनों के खिलाफ अरगोड़ा थाने में केस दर्ज किया गया है. दोनों 22 मार्च को दिल्ली से रांची पहुंचे थे.

25 जुलाई: लालपुर थाना क्षेत्र में 3 लोगों पर होम क्वॉरेंटाइन के उल्लंघन को लेकर प्राथमिकी दर्ज की गयी. तीनों दूसरे राज्य से अपने घर लौटे थे. जब जिला प्रशासन की टीम जब जांच करने इनके दिए गये पते पर पहुंची तो सभी अपने घर से बाहर थे. तीनों का नाम काजल पांडे, डॉक्टर चंद्रेश्वर राम और विजय मिर्धा है.

30 जुलाई: लालपुर थाना क्षेत्र के ही 3 अन्य लोगों पर होम क्वारेंटाइन का पालन नहीं करने के लिए एफआईआर दर्ज किया गया. तीनों का नाम ऋषभ अग्रवाल, संजय कुमार अग्रवाल और जाहिद आलम है. सभी व्यक्ति अपने आवास भागवत इंक्लेव, श्री लोक कॉम्प्लेक्स, हजारीबाग रोड, भावनगर में होम क्वारेंटाइन में रहने का निर्देश दिया गया था, लेकिन सभी ने इसका उल्लंघन किया.

31 जुलाई: डोरंडा स्थित साउथ प्वाइंट अपार्टमेंट और साउथ ऑफिस पाड़ा में रहने वाले 2 लोगों पर एफआईआर दर्ज करने का आदेश ने दिया. लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले व्यक्तियों का नाम एसके अब्दुल मतीन और सुशांता कमलिया है. एडीएम (लॉ एंड ऑर्डर) अखिलेश सिन्हा ने इन दोनों पर एफआईआर दर्ज करने का निर्देश दिया.

1 अगस्त: अशोक नगर में रहने वाले 5 लोगों पर होम क्वॉरेंटाइन का उल्लंघन करने पर एफआईआर दर्ज करने का निर्देश दिया गया. उल्लंघन करने वालों का नाम आकाश कुमार सिन्हा, भुनेश्वर कुमार, अमित रॉय, मिथुन कुमार और शंभु कुमार शामिल है.

इसे भी पढ़ें –अश्लील फिल्म बनाकर पोर्न वेबसाइट को 10 लाख में बेची, वेब सीरीज में काम का दिया था झांसा

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close
%d bloggers like this: