JharkhandRanchi

रांची डीसी ने कोरोना कोषांगों की समीक्षा की, कहा- पॉजिटिव मरीजों का इलाज अस्पताल में ही सुनिश्चित हो

Ranchi : रांची के उपायुक्त छविरंजन ने सोमवार को जिला में कोविड-19 टीकाकारण और कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए गठित विभिन्न कोषांगों के कार्यों की समीक्षा की. बैठक में उपायुक्त ने कोषांगों के नोडल पदाधिकारियों से अब तक की गयी जांच, पोर्टल पर की गयी एंट्री और बैकलॉग की रिपोर्ट उपलब्ध कराने को कहा है. उपायुक्त ने कहा कि पॉजिटिव मरीजों का इलाज अस्पताल में ही सुनिश्चित करायें. उन्होंने कहा कि सभी इंसिडेंट कमांडर ये सुनिश्चित करें कि कोई कोविड मरीज घर पर इलाजरत न हो. सभी इंस्टीट्यूशनल आइसोलेशन में रहें.

इसे भी पढ़ें :हौसले को सलाम : रोड एक्सीडेंट रोकने के लिए बुजुर्ग दंपति ने 11 साल में भरे दो हजार गड्ढे

टीकाकरण में बेहतर प्रदर्शन करनेवाले प्रखंडों की सराहना की उपायुक्त ने

बैठक में टीकाकरण कार्य की प्रखंडवार समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने संबंधित पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये. उन्होंने कहा कि यह प्रयास करें कि जिला में जितना टीका उपलब्ध है, लोगों को दें.

टीकाकरण कार्य में अच्छा प्रदर्शन करनेवाले प्रखंड की उपायुक्त ने सराहना की. उपायुक्त ने टीका की उपलब्धता होने पर निजी कंपनियों और बैंक कार्यालय आदि में टीकाकरण की व्यवस्था करने का निर्देश दिया.

इसे भी पढ़ें :RANCHI : 20.5 लाख की लागत से दो वार्डों में बनेगी नाली और सड़क

उप विकास आयुक्त ने तैयारियों की जानकारी दी

बैठक के दौरान जिले के विभिन्न सरकारी अस्पतालों में पीएसए प्लांट लगाये किये जाने की समीक्षा भी उपायुक्त द्वारा की गयी. उप विकास आयुक्त रांची विशाल सागर ने इससे संबंधित की गयी तैयारियों से उपायुक्त को अवगत कराया. एलएमओ टैंक और पीएसए प्लांट के संचालन को लेकर उपायुक्त ने यथाशीघ्र तैयारी पूर्ण करने का निर्देश दिया.

इसे भी पढ़ें :पलामू : हेमंत सरकार के खिलाफ BJYM ने ‘पाप का घड़ा फोड़ो’ अभियान के तहत किया प्रदर्शन

सभी निजी लैब का निरीक्षण करें अधिकारी

वहीं, अनुमंडल पदाधिकारी सदर रांची को उपायुक्त ने सभी निजी लैब का निरीक्षण और संचालकों के साथ बैठक करने का निर्देश दिया.

उपायुक्त ने कहा कि निजी लैब का निरीक्षण कर जांच करें कि कोविड टेस्ट करानेवालों का नाम, पता एवं अन्य आवश्यक जानकारी सही तरीके से लिये जा रहे हैं या नहीं ताकि उन्हें टेस्ट करने में किसी तरह की परेशानी न हो.

संबंधित कोषांग के पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये. वर्चुअल मीटिंग में सभी कोषांग के नोडल पदाधिकारी, अंचल अधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, एमओआईसी, पीएमयू सदस्य एवं अन्य संबंधित पदाधिकारी जुड़े थे.

इसे भी पढ़ें :Jharkhand News: महंगाई के खिलाफ प्रदेश कांग्रेस ने राज्य भर में पेट्रोल पंप के समक्ष चलाया हस्ताक्षर अभियान

Related Articles

Back to top button