न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रांची के पार्षदों को खतरा, चाहिए रिवॉल्वर का लाइसेंस

नगर विकास मंत्री सीपी सिंह को ज्ञापन सौंप लगायी सुरक्षा की गुहार

449

Ranchi : रांची नगर निगम के कई पार्षद अब अपनी सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं. उन्होंने सरकार से बॉडीगार्ड और रिवॉल्वर का लाइसेंस देने की मांग की है. गुरुवार को कई पार्षदों ने इस संदर्भ में नगर विकास मंत्री सीपी सिंह से उनके आवास पर मुलाकात कर एक ज्ञापन सौंपा. सौंपे गये ज्ञापन में उन्होंने मांग की है कि उनके अपने क्षेत्र में सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए उनकी मांगों पर विचार किया जाये. ज्ञापन सौंपने के दौरान इन पार्षदों ने निगम द्वारा उन्हें दिये जा रहे कम मानदेय को भी बढ़ाने की बात मंत्री सीपी सिंह से कही.

देखें वीडियो-

इसे भी पढ़ें – आखिर मोदी को रह-रह कर आपातकाल क्यों याद आता है?

इन पार्षदों ने अपनी सुरक्षा को लेकर लगायी गुहार

अपनी सुरक्षा को लेकर मंत्री सीपी सिंह से गुहार लगानेवाले पार्षदों में नकुल तिर्की (वार्ड 1), गायत्री देवी (वार्ड 5), मोनिका खलखो (वार्ड 6), सुजाता कच्छप (वार्ड 7), वीणा अग्रवाल (वार्ड 8), प्रीति रंजन (वार्ड 9), आशा देवी (वार्ड 18), सुनील कुमार यादव (वार्ड 26), अरूण कुमार झा (वार्ड 26), ओम प्रकाश (वार्ड 27), दिनेश राम (वार्ड 14), जेरमिन कुजूर (वार्ड 15), (वार्ड 17),  एहतेशाम (वार्ड 21), अर्जुन राम (वार्ड 25), रश्मि चौधरी (वार्ड 28), रीमा देवी (वार्ड 30), पुष्पा टोप्पो (वार्ड 33), शबाना खान (वार्ड 17), झरी लिंडा (वार्ड 35), सोनी परवीन (वार्ड 29), सुचीता रानी राय (वार्ड 40), फिरोज आलम (वार्ड 44) शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें – समाज कल्याण विभाग ने हाथ खड़े कियेः राज्य के 38400 आंगनबाड़ी केंद्रों में अंडे की आपूर्ति केंद्रीयकृत व्यवस्था से संभव नहीं

सेवा करने के दौरान जान की सुरक्षा का लगता है डर : पार्षद

ज्ञापन देनेवाले पार्षदों का कहना है कि वे अपने क्षेत्र में सुबह से शाम तक काम करते हुए जनता का सेवा करते हैं. सरकार की सभी योजनाओं को जनता तक पहुंचाने का भी काम सभी पार्षद पूरी ईमानदारी से करते हैं, लेकिन लोगों से मिलने के दौरान कई बार उन्हें जलील करने, मारपीट की धमकी देने यहां तक कि जान से मारने की भी धमकी मिलती है. ऐसे में पार्षदों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए तत्काल पार्षद कार्यालय में एक बॉडीगार्ड रखने और इन पार्षदों को हो सके, तो रिवाल्वर का लाइसेंस दिलाने की दिशा में काम हो. मुलाकात के दौरान इन पार्षदों ने उन्हें मिल रहे मानदेय की बात को भी प्रमुखता से रखी. कहा कि उन्हें मासिक रूप से केवल 7000 रुपये निगम देता है, जो कि बहुत कम है. ऐसे में जरूरी है कि सरकार द्वारा उनके मानदेय को बढ़ाने की पहल की जाये.

इसे भी पढ़ें – मुख्य सचिव से मिला चीनी प्रतिनिधिमंडल, झारखंड के विकास में सहयोग के लिए जाहिर की इच्छा

मुख्यमंत्री के समक्ष रखेंगे पार्षदों की बात : सीपी सिंह

मंत्री सीपी सिंह ने ज्ञापन देनेवाले पार्षदों को कहा कि वे आर्म्स लाइसेंस देने के मामले को मुख्यमंत्री के समक्ष रखेंगे. वहीं मानदेय बढ़ाने पर वे अपने विभागीय सचिव से बातचीत करेंगे. हालांकि सीपी सिंह ने यह भी कहा कि मानदेय बढ़ाने का काम केवल रांची नगर निगम में नहीं बल्कि राज्य के सभी निकायों में किया जायेगा.

इसे भी पढ़ें – 30 सितंबर तक ग्रामीण सड़क, पानी की टंकी, स्ट्रीट लाइट और पेभर ब्लॉक लगाने का काम पूरा करें : सीएम

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like