न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

विधानसभा चुनाव :  दूसरे चरण में 48 लाख मतदाता डालेंगे वोट, 6066 मतदान केंद्र बनाये गये

पोस्टल बैलेट के जरिये चौथे और पांचवें चरण में कर सकेंगे बुजूर्ग और दिव्यांग मतदान

1,654

Ranchi :  दूसरे चरण के लिए नामाकंन सोमवार से शुरू हुआ. 18 नवंबर तक प्रत्याशी नामाकंन कर सकते हैं. दूसरे चरण का चुनाव 20 विधानसभा सीटों पर होना है. जिसमें सात जिले शामिल हैं. अब तक दूसरे चरण के लिए 47 लाख 93 हजार 513 कुल मतदाता हैं. इसमें से महिला मतदाताओं की संख्या 23 लाख 75 हजार 528 है और पुरूष मतदाताओं की संख्या 24 लाख 17 हजार 917 है.

इस चरण के लिए थर्ड जेंडर के 86 मतदाता हैं. उक्त जानकारी मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय कुमार चौबे ने दी. वे सोमवार को प्रेस वार्ता को संबोधित कर रहे थे. जिसमें उन्होंने दूसरे चरण के चुनाव की जानकारी दी. विनय चौबे ने बताया कि इन क्षेत्रों में 18 से 19 साल के नये मतदाताओं की संख्या 86 हजार 528 है.

Sport House

19 नवंबर को दूसरे चरण के नामाकंन की समीक्षा की जायेगी. 21 को प्रत्याशी नामाकंन वापस ले सकते है. इस क्षेत्र के लिए मतदान 7 दिसंबर को होनी है.

इसे भी पढ़ेंः #Latehar-लोहरदगा की सीमा पर भाकपा माओवादी और जेजेएमपी के बीच मुठभेड़, मोर्टार भी दागे गये!

कुल 6066 मतदान केंद्र बनाये गये

सात जिलों मे दूसरे चरण के चुनाव के लिए कुल 6066 मतदान केंद्र बनाये गये.  इसमें 1016 मतदान केंद्र शहरी क्षेत्रों और 5050 मतदान केंद्र ग्रामीण इलाकों में बनाये गये हैं. जिसके लिए 4273 भवनों का उपयोग किया जायेगा.

Mayfair 2-1-2020

विनय चौबे ने कहा कि आचार संहिता लागू होने के बाद से अब तक 20 प्राथमिकी दर्ज की गयी है. सी विजिल से इसमें 383 शिकायत अब तक मिले हैं. इसमें से 82 मामलों पर कार्रवाई की जा चुकी है. सिर्फ एक मामला लंबित है.

पोस्टल बैलेट से सात जिलों के बुजूर्ग और दिव्यांग वोट दे पायेंगे

इस दौरान बताया गया कि राज्य निर्वाचन विभाग के पास समय कम है. ऐसे में पहले चरण में पोस्टल बैलेट से मतदान सुनिश्चित करने में परेशानी हो रही थी. भारतीय निर्वाचन आयोग को इस मामले में पत्र भी लिखा गया. जिसके बाद निर्णय लिया गया कि चौथे और पांचवें चरण के चुनाव में पोस्टल बैलेट की सुविधा लोगों को दी जायेगी. पोस्टल बैलेट दिव्यांग और 80 साल से अधिक उम्र के बुजूर्गों के लिए है.

सात जिलों में लोग पोस्टल बैलेट से मतदान करेंगे. यह पायलट प्रोजेक्ट के तहत लागू किया जायेगा. इन सात जिलों में देवघर, जामताड़ा, पाकुड़, राजमहल, गोड्डा, बोकारो और धनबाद है. इन सभी जिलों में चौबे और पांचवा चरण में चुनाव होना है. चौथे चरण का चुनाव 16 दिसंबर और पांचवें चरण का चुनाव 20 दिसंबर को होना है. बता दें मतदान के तीन दिन पहले पोस्टल बैलेट के मतदान मतदान कर लेंगे.

इसे भी पढ़ेंः गढ़वा: भवनाथपुर से भानू प्रताप शाही को टिकट देने का विरोध, भाजपा कार्यकर्ताओं ने दिया सामूहिक इस्तीफा

बूथ में लगे लाइनों की जानकारी एप से मिलेगी

बूथ एप के बारे में बताते हुए इन्होंने कहा कि दस विधानसभा क्षेत्रों में बूथ एप की सुविधा दी जायेगी. मतदाता प्ले स्टोर आदि के जरिये इसे अपने फोन पर डाउनलोड कर सकते हैं. जिसके बाद उनके बूथ पर कितने लोगों की लाइन लगी है, इसकी जानकारी घर बैठे मिल सकती है.

यह सुविधा जमशेदपुर पूर्वी, जमशेदपुर पश्चिमी, चाईबासा, रामगढ़, हजारीबाग, देवघर, गांडेय, झरिया आदि है. बूथ एप भारतीय निवार्चन आयोग की ओर से तैयार किया गया है. विनय चौबे ने बताया कि लोगों को इससे सुविधा होगी. समय कम होने के कारण कम क्षेत्रों में इसकी सुविधा दी जा रही है.

अब तक एक करोड़ 41 लाख की जब्ती

आचार संहिता लगने के बाद से 10 नवंबर तक एक करोड़ 41 लाख एक हजार चार सौ के अवैध जब्ती की गयी. जिसमें 59 लाख 79  हजार  435 के शराब, 46 लाख 6 हजार 110 के महुआ, गांजा डोडा समेत अफीम 17 लाख 96 हजार 975 और मुफ्त सामग्री वितरण करने योग्य समान 17 लाख 18 हजार 975 के जब्त किये गये. नामाकंन की जानकारी देते हुए कहा गया कि 32 लोगों ने नामाकंन किया. जिसमें से सबसे अधिक गढ़वा में 12 लोगों ने नामाकंन किया.

इसे भी पढ़ेंः #EconomicSlowdown: औद्योगिक उत्पादन सितंबर 2018 के मुकाबले 4.3 प्रतिशत घटा

SP Deoghar

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like