न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कोयलांचल में आतंक बने गैंगस्टर अमन श्रीवास्तव गिरोह के 11 अपराधी गिरफ्तार

पिछले कई माह से अपराधी अमन श्रीवास्तव गिरोह के द्वारा लातेहार और उसके सीमावर्ती जिले में सक्रिय रहकर कोयला व्यवसायियों और अन्य ठेकेदारों से रंगदारी वसूलने का काम किया जा रहा था.

373

Ranchi :  कोयलांचल में आतंक का पर्याय बने गैंगस्टर अमन श्रीवास्तव गिरोह के 11 अपराधियों को लातेहार पुलिस की विशेष छापामार टीम ने रांची पुलिस,हजारीबाग पुलिस और चतरा पुलिस के सहयोग से गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार अपराधियों में मुकेश कुमार साव, महमूद मियां, महमूद आलम, रजाक अंसारी, सौरभ सिन्हा, अमरजीत पासवान,  कुर्बान अंसारी, सुदर्शन नायक राजेश कुमार मिश्रा, संजय गंझू और अंकित किशोर नाथ साही शामिल हैं.

गिरफ्तार  अपराधियों के पास से पुलिस ने चार देसी पिस्टल, तीन देसी कट्टा और 60 राउंड जिंदा गोलियां सहित अन्य सामान बरामद किये. बता दें कि मुकेश कुमार, महमूद मियां, महमूद आलम और राजेश कुमार का पूर्व में भी आपराधिक इतिहास रहा है.

Sport House

इसे भी पढ़ें :  निरसा में अवैध कोयला उत्खनन के दौरान चाल धंसी, दो लोगों की मौत, शवों को लेकर फरार हुए लोग

टीम का गठन डीआईजी के निर्देश पर किया गया  

पिछले कई माह से अपराधी अमन श्रीवास्तव गिरोह के द्वारा लातेहार और उसके सीमावर्ती जिले में सक्रिय रहकर कोयला व्यवसायियों और अन्य ठेकेदारों से रंगदारी वसूलने का काम किया जा रहा था. रंगदारी वसूलने, क्षेत्र में दहशत फैलाने के लिए इस गिरोह के द्वारा हाल के दिनों में हत्या,आगजनी और गोलीबारी की घटनाओं के अंजाम दिया जा रहा था, जिससे इस क्षेत्र में व्यवसायियों में दहशत का माहौल पैदा हो गया था और विधि व्यवस्था की स्थिति भी उत्पन्न हो गयी थी.

स्थिति की गंभीरता को देखते हुए डीआईजी दक्षिणी छोटानागपुर रांची के दिशा निर्देश में पुलिस अधीक्षक लातेहार के नेतृत्व में अमन श्रीवास्तव गिरोह के सदस्यों का पता लगाकर उसकी गिरफ्तारी करने तथा उनकी गतिविधियों पर अंकुश लगाने के लिए विशेष छापेमार टीम का गठन किया गया था.

Mayfair 2-1-2020

अलग अलग जगहों से गिरफ्तार हुए अपराधी

डीआईजी के निर्देश पर गठित टीम के द्वारा 14 जनवरी को बालूमाथ से मुकेश साव को गिरफ्तार किया गया. मुकेश ने पुलिस की टीम को गिरोह के अधिकतर अपराधियों और सदस्यों के बारे में जानकारी देते हुए और उनके द्वारा घटनाओं को अंजाम देने की योजना के बारे में भी बताया.

प्राप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने  विभिन्न टीमों में बंट कर चंदवा थाना क्षेत्र के वीराटोली कोल साइडिंग और काली मैदान के पास बाकी सभी अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया.  गिरोह के सरगना अमन श्रीवास्तव और उसके गैंग के शेष बचे अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु पुलिस की टीम लगातार प्रयास कर रही है.

इसे भी पढ़ें : #TerrorFunding में गिरफ्तार हुए ट्रांसपोर्टर को रिमांड पर ले सकती है #NIA, कई बड़े खुलासे की संभावना

अमन श्रीवास्तव गिरोह ने हाल के दिनों में कई घटनाओं का दिया है अंजाम

अमन श्रीवास्तव गिरोह के द्वारा हाल के दिनों में कई घटनाओं का अंजाम दिया गया है,  जिनमें वर्ष 2018 में हजारीबाग से बरही फोर लाइन रोड निर्माण में लगे कंट्रक्टर का अपहरण कर लेवी की वसूली, वर्ष 2018 में लातेहार जिले के बालूमाथ थाना क्षेत्र के फुलवसिया कोल साइडिंग पर पहुंचकर मुंशी और मजदूरों के साथ मारपीट और पर्चा छोड़ने की घटना शामिल है.

इसके अलावा वर्ष 2019 न्यू बिरसा कोलियरी के विस्थापित नेता सोना राम मांझी को जान से मारने की धमकी, 2019 में विस्थापित नेता दसई मांझी के द्वारा रंगदारी नहीं देने पर उनपर गोली चलाना, वर्ष 2019 के दिसंबर माह में बालूमाथ थाना क्षेत्र के कोयला व्यवसायी जुगल गंझू की गोली मारकर हत्या और दिसंबर महीने में ही अमन श्रीवास्तव गिरोह के द्वारा चंदवा थाना क्षेत्र के कोयला व्यवसायी रवि गंझू पर जान मारने की नीयत से गोली चलाने सहित कई अन्य घटनाओं का अंजाम दिया गया था.

रेलवे साइडिंग पर बढ़ा है अमन श्रीवास्तव गिरोह का आतंक

राज्य के रामगढ़, लोहरदगा, लातेहार, चतरा और रांची जिले में रेलवे कोयला साइडिंग पर इन दिनों अमन श्रीवास्तव गिरोह का आतंक तेजी से बढ़ा है. ये गिरोह रेलवे साइडिंग से जुड़े व्यवसायियों से रंगदारी वसूलता है.अमन श्रीवास्तव गिरोह सबसे ज्यादा सक्रिय है. जो उग्रवादी संगठनों की तरह पर्चा छोड़ रंगदारी की मांग करता है.

गिरोह रंगदारी नहीं मिलने पर वारदातों को अंजाम देने के बाद पर्चा छोड़कर जिम्मेदारी भी लेता है. अमन श्रीवास्तव गिरोह के अलावा सुजीत सिन्हा गिरोह, कुणाल गिरोह, दुबे गिरोह, विकास तिवारी गिरोह सक्रिय हैं. बता दे कि अमन श्रीवास्तव, सुशील श्रीवास्तव की मौत के बाद से गिरोह का सरगना बना है.

ऑपरेशन अमन की हुई है शुरुआत

झारखंड के कुख्यात गैंगस्टर सुशील श्रीवास्तव की हत्या के बाद गैंग की कमान संभाल रहे अमन श्रीवास्तव का आतंक कोयलांचल में सर चढ़कर बोल रहा है. कोयला ट्रांसपोर्टिंग में रंगदारी को लेकर अमन श्रीवास्तव गिरोह की सक्रियता इन दिनों काफी बढ़ गयी है. इस गिरोह पर लगाम लगाने के लिए पुलिस ऑपरेशन अमन की शुरुआत की है.

पुलिस मुख्यालय से मिली जानकारी के अनुसार एक माह के लिए रांची समेत वैसे जिले जहां अमन श्रीवास्तव गिरोह का प्रभाव है , उन जिलों में पुलिस विशेष टीम बनाकर अमन गैंग के खिलाफ नकेल कसेगी. विशेष टीम हाल के दिनों में अमन श्रीवास्तव गिरोह के जितने भी अपराधी जमानत पर हैं या फरार हैं उन पर शिकंजा कसेगी.

इसे भी पढ़ें : पलामू: पत्थर व्यवसायी से लेवी वसूलने जा रहा TPC एरिया कमांडर महेश्वर राम गिरफ्तार, कई कांडों में रहा है शामिल

SP Deoghar

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like