न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रामगढ़: चोरों ने की ATM लूटने की कोशिश, सुरक्षा गार्ड की तत्परता से भागे अपराधी

595

Ramgarh : जिले के कैथा स्थित बाजार समिति परिसर में लगे पीएनबी के एटीएम को मंगलवार देर रात अपराधियों ने लूटने की कोशिश की. लेकिन सुरक्षा गार्ड की तत्परता से चोरों की योजना विफल हो गयी और अपराधियों को भागना पड़ा.

पांच-छह की संख्या में आये अपराधी मारुति वैन पर सवार होकर पहुंचे थे. एटीएम के बाहर वैन को खड़ा कर एटीएम मशीन को रस्सी के सहारे उखाड़ने की कोशिश कर रहे थे.

इसे भी पढ़ें- आंध्र प्रदेशः TDP प्रमुख नायडू और बेटे नारा लोकेश नजरबंद, सरकार के खिलाफ अनशन से पहले कार्रवाई

सुरक्षा गार्ड की तत्परता से भागे अपराधी

अपराधी एटीएम मशीन उखाड़ने की कोशिश कर रहे थे इसी दौरान जोरदार आवाज आयी. आवाज सुनकर बाजार समिति में तैनात दो निजी सुरक्षा गार्ड ने चोर-चोर चिल्लाया और पुलिस को सूचना देने के लिए टीओपी पहुंचे. गौरतलब है कि टीओपी एटीएम से महज 30 मीटर की दूरी पर है.

दूसरी ओर सुरक्षा गार्ड को चिल्लाता देख अपराधी एटीएम छोड़ कार में सवार होकर भाग निकले. इधर पुलिस मौके पर पहुंची और घटनास्थल से रस्सी, एक एटीएम कार्ड और एक आधार कार्ड बरामद किया. वहीं घटना में एटीएम क्षतिग्रस्त हो गया.

इसे भी पढ़ें- यादगार होगा ह्यूस्टन में मोदी का संबोधन: भारतीय राजदूत

मौके पर पहुंचे PNB रामगढ़ शाखा के मुख्य प्रबंधक

घटना की सूचना मिलने पर पीएनबी रामगढ शाखा के मुख्य प्रबंधक एसके रहतोगी बुधवार की सुबह बाजार समिति पहुंचे और क्षतिग्रस्त एटीएम की जांच पड़ताल की.

मुख्य शाखा प्रबंधक ने बताया कि एटीएम से चोरों ने रुपये चोरी की है या नहीं इसकी जांच की जाएगी. फिलहाल रामगढ़ थाना में शिकायत दर्ज करा दी गयी है.

इसे भी पढ़ें- #AppleEvent ने लांच किया #iPhone11, कीमत में कटौती, 64,990 रुपये से शुरुआत 

शहर में पहले भी ATM से हो चुकी है 42.78 लाख की लूट

5 मई 2019 रामगढ़ में देर रात मांडू थाना क्षेत्र के स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के एटीएम को अपराधी उखाड़कर ले गये और उसे तोड़कर उसमें रखे 42.78 लाख रुपये निकाल लिये.

पैसे निकालने के बाद एटीएम को बेंगाबाग गांव के पास फेंक दिया. सुबह कुज्जू ओपी क्षेत्र में बाईपास रोड से करीब 200 मीटर दूर एक गड्ढे में कुछ लोगों ने टूटा एटीएम देखा. जिसके बाद इसकी सूचना पुलिस को दी. इस मामले में अभी तक अपराधी पुलिस की पकड़ से दूर है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
क्या आपको लगता है कि हम स्वतंत्र और निष्पक्ष पत्रकारिता कर रहे हैं. अगर हां, तो इसे बचाने के लिए हमें आर्थिक मदद करें. आप हर दिन 10 रूपये से लेकर अधिकतम मासिक 5000 रूपये तक की मदद कर सकते है.
मदद करने के लिए यहां क्लिक करें. –
%d bloggers like this: