न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रामविलास के खिलाफ बेटी और चिराग के खिलाफ दामाद लड़ सकते हैं चुनाव

213

Patna: आगामी लोकसभा चुनाव रामविलास पासवान और उनके बेटे चिराग पासवान के लिए आसान नहीं होगा. उन्‍हें अपने ही परिवार के सदस्‍यों से कड़ी चुनौती मिलने वाली है. रामविलास पासवान के खिलाफ खुद उनकी बेटी आशा पासवान हाजीपुर से चुनावी मैदान में उतर सकती हैं, वहीं दूसरी ओर उनके दामाद अनिल कुमार साधु चिराग पासवान के खिलाफ चुनाव लड़ सकते हैं. खबरों के मुताबिक बेटी-दामाद इसके लिए लालू यादव की पार्टी राष्‍ट्रीय जनता दल से बात कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें: झारखंड की तीन और बिहार की छह सीटों पर चुनाव लडे़गी भाकपा माले

बेटी आशा ने पिता रामविलास पर लगाया बेटा-बेटी के बीच भेदभाव का आरोप

रामविलास पासवान की अपनी बेटी आशा पासवान ने पिता के खिलाफ चुनाव लड़ने का एलान करते हुए कहा है कि वे अपने पिता के खिलाफ लालू यादव की पार्टी आरजेडी के टिकट पर चुनाव लड़ेंगी. बेटी ने अपने पिता पर बेटा-बेटी के बीच भेदभाव का आरोप लगाया है और कहा है कि ‘मुझे तवज्जो नहीं दी गई, जबकि चिराग को एलजेपी संसदीय दल का नेता बना दिया गया. अगर आरजेडी मुझे टिकट देती है, तो मैं हाजीपुर से चुनाव लड़ूंगी.’ आशा पासवान ने कहा है कि उन्हें राजद ने टिकट दिया तो वे हाजीपुर से पिता के खिलाफ चुनाव लड़ सकती हैं. उन्‍होंने लालू प्रसाद यादव को चाचा कहते हुए आशा पासवान ने तेजस्वी व तेज प्रताप यादव को अपना छोटा भाई बताया.

आशा ने आरोप लगाया कि उनके पिता ने हमेशा उनके भाई चिराग पासवान को ही आगे बढ़ाने के बारे में सोचा है, बेटी के बारे में कभी नहीं सोचा. आशा ने कहा कि उनकी अनदेखी की गई, क्योंकि उनके पिता बेटियों के साथ भेदभाव करते हैं. गौरतलब है कि राम विलास पासवान की दो शादियां हैं. आशा पासवान की मां राम विलास पासवान की पहली पत्‍नी हैं.

वे बिहार में पासवान के पैतृक गांव में रहती हैं. आशा के भाई चिराग पासवान राम विलास पासवान की दूसरी पत्‍नी के इकलौते बेटे हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: