JharkhandRanchi

विश्व आदिवासी दिवस पर निकली गयी रैली, सरना धर्म कोड लागू करने की मांग

Ranchi : विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर केन्द्रीय सरना समिति एवं अखिल भारतीय आदिवासी विकास परिषद के तत्वाधान में केन्द्रीय सरना समिति के केंद्रीय अध्यक्ष फूलचंद तिर्की के नेतृत्व में करमटोली, नगड़ाटोली, बोड़ेया, नामकुम, कांके, हटिया, ओरमंझी, बरियातू से सैकड़ों की संख्या में पारंपरिक वेशभूषा में ढोल, नगाड़ा, मांदर, तीर-धनुष के साथ महिला पुरुष अलबर्ट एक्का चौक से मोरहाबादी मैदान बापू वाटिका तक शोभा यात्रा के रूप में गये. बापू वाटिका के समक्ष पारंपरिक नृत्य संगीत का कार्यक्रम किया गया. मौके पर केंद्रीय सरना समिति के केंद्रीय अध्यक्ष फूलचंद तिर्की ने कहा कि 9 अगस्त को पूरे  विश्व में आदिवासी अपनी परंपरा संस्कृति को प्रदर्शित करते हैं एवं अपनी एकजुटता अपनी पहचान अपने अधिकार की आवाज बुलंद करते हैं. उन्होंने कहा कि विश्व आदिवासी दिवस के मौके पर सरना कोड की मांग की गयी है. मौके पर केंद्रीय सरना समिति के महासचिव संजय तिर्की, अखिल भारतीय आदिवासी विकास परिषद के अध्यक्ष सत्यनारायण लकड़ा, विमल कच्छप, बाना मुंडा, बिनय उरांव, महिला शाखा अध्यक्ष नीरा टोप्पो, नगिया टोप्पो, मीरा टोप्पो, प्रमोद एक्का, सहाय तिर्की, सुखवारो उरांव,  अमर तिर्की, ज्योत्सना भगत, गुड्डी तिर्की, सीमा तिर्की, सोनी तिर्की, पंचम तिर्की, भुवनेश्वर लोहरा, सुशील उरांव, किशन लोहरा एवं अन्य शामिल थे.

इसे भी पढ़ें – गिरिडीह के पीरटांड़ में धूमधाम से मनाया गया विश्व आदिवासी दिवस

Related Articles

Back to top button