National

सुषमा स्वराज को श्रद्धांजलि देने के साथ राज्यसभा अनिश्चितकाल के लिए स्थगित, 32 विधेयक पारित हुए

NewDelhi : सुषमा स्वराज के निधन पर राज्यसभा में उन्हें श्रद्धांजलि दी गयी.  इस दौरान उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा कि उनके असामयिक निधन से राष्ट्र ने एक सक्षम प्रशासक, एक प्रभावी सांसद और लोगों की एक सच्ची आवाज खो दी है. इस दौरान संसद में प्रधानमंत्री मोदी, निर्मला सीतारमण, थावरचंद्र गहलोत समेत कई नेता उपस्थित थे.  ट

इसके साथ ही राज्यसभा का  249वां सत्र बुधवार को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया. जान लें  इस सत्र के दौरान तीन तलाक संबधित विधेयक तथा जम्मू कश्मीर को दो केंद्रशासित प्रदेशों में विभाजित करने के प्रावधान सहित कई महत्वपूर्ण विधेयक पारित किये गये.

सभापति एम वेंकैया नायडू ने राज्यसभा को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करने से पहले अपने पारपंरिक संबोधन में कहा कि पिछले 17 साल में सबसे अधिक विधायी कामकाज तथा सबसे अधिक बैठकें इस सत्र में हुईं,  इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी सदन में मौजूद थे

ram janam hospital
Catalyst IAS

कई सदस्यों ने इस्तीफा दिया

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

लोकसभा चुनाव के बाद राज्यसभा का यह पहला सत्र था और इस दौरान 2019-20 का आम बजट, राष्ट्रपति अभिभाषण के धन्यवाद प्रस्ताव, तीन तलाक संबंधी विधेयक, आरटीआई कानून में संशोधन संबंधी विधेयक, अनुच्छेद 370 की अधिकतर धाराओं को समाप्त करने संबंधी संकल्प, जम्मू कश्मीर पुनर्गठन विधेयक समेत कुल 32 विधेयक पारित किये गये.

सत्र के दौरान जहां कई नये सदस्यों ने राज्यसभा की सदस्यता की शपथ ली वहीं सपा और कांग्रेस के कई सदस्यों ने इस्तीफा भी दिया.  इन सदस्यों में सपा के नीरज शेखर, संजय सेठ और सुरेंद्र नागर तथा कांग्रेस के संजय सिंह और भुवनेश्वर कालिता शामिल हैं.

इसे भी प़ढें : भाजपा मुख्यालय में सुषमा स्वराज को श्रद्धांजलि दी गयी, पार्टी का झंडा ओढ़ाया गया

Related Articles

Back to top button