न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

कभी योगेंद्र साव के करीबी रहे उग्रवादी संगठन के सरगना के आरोपी राजू साव अब जयंत सिन्हा के करीबी

1,561

Hazaribagh : पूर्व मंत्री योगेंद्र साव का उग्रवादी संगठन के सरगाना राजू साव के साथ एक फोटो क्या वायरल हुई थी, हाय-तौबा मच गया था. यहां तक कि योग्रेंद्र साव को कुर्सी भी गवानी पड़ गयी थी. उसके बाद कुछ दुश्वारियों के बाद यह जनाब फिर दिखे. इस बार ये सीएम रघुवर के साथ दिखे गए. खबर छपने के बाद बीजेपी के कार्यकर्ता होने वाली सफाई भी बीजेपी के लोगों ने ही गलत साबिक करनी शुरू कर दी. अब यह फिर से दिखाई दे रहे हैं. इस बार यह करीब बहुत करीब खड़े हैं, केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा के. गौर करने वाली बात यह है कि इस बार ये जयंत सिन्हा के साथ अमरदीप यादव के साथ दिखायी दे रहे हैं. अमरदीप ने ही इससे पहले सीएम के साथ तस्वीर वाली खबर पर कहा था कि वो किसी राजू साव को नहीं जानते हैं. जी हां बात हो रही है राजू साव की जिनपर एक उग्रवादी संगठन के सरगना होने का आरोप है.

eidbanner

इसे भी पढ़ें :  ड्यूटी के दौरान गंभीर रूप से घायल हुए सिपाही अनिल पाठक को सरकार की ओर से नहीं मिल रही मदद

ये वही राजू साव हैं

ये वही राजू साव हैं जिनपर झारखंड बचाओ रक्षा आंदोलन उग्रवादी संगठन के सरगना होने का आरोप लगा था. एक दूसरा उग्रवादी संगठन झारखंड टाइगर ग्रुप जिसका मेन्टॉर बनने का आरोप योगेंद्र साव पर लगा था, उसके सरगना राजकुमार गुप्ता ने पुलिस को बयान दिया था कि योगेंद्र साव ने जो हथियार उन लोगों को उपलब्ध कराये थे. उसे चलाने का प्रशिक्षण भी राजू साव ने ही दिया था.

इसे भी पढ़ें : नॉर्थ कर्णपुरा के 1980 मेगावाट सुपर थर्मल पावर प्लांट से अगस्त 2020 से शुरू हो जायेगा उत्पादन

Related Posts

इस गर्मी में भी आधी रांची को समय पर नहीं मिल रहा पानी, लोगों की बढ़ी परेशानी

पेयजल और स्वच्छता विभाग के अधिकारी मस्त, जनता पस्त

सीएम रघुवर दास के साथ भी हुई थी तस्वीर वायरल

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो हुई थी. जिसमें सीएम के साथ उग्रवादी संगठन का सरगना बनने का आरोपी राजू साव साफतौर से देखा जा रहा था. एक नहीं बल्कि ऐसे कई मौकों पर राजू साव ने सीएम के साथ फोटो खिंचवाई है. इससे पहले हेलीकॉप्टर में राजू साव की तस्वीर योगेंद्र साव के साथ वायरल हुई थी. योगेंद्र साव के साथ कई मौकों पर राजू साव की तस्वीर वायरल हो चुकी है. कुछ लोगों का कहना है कि योगेंद्र साव के खिलाफ बयान देने का फायदा राजू साव को बीजेपी की तरफ से मिल रहा है. बरकागांव क्षेत्र में यह भी कहा जा रहा है कि राजू साव की राजनीति में महत्‍वाकांक्षा बढ़ी है, वो विधानसभा चुनाव की तैयारी कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें : 8 बार सांसद रहे शिबू सोरेन के लोकसभा क्षेत्र दुमका में है कुपोषण की समस्या

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: