Jamshedpur

राजकुमार ने डीसी से मिलकर गोविंदपुर-खासमहल सड़क बनवाने का किया आग्रह

कीताडीह हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में पानी की व्यवस्था करने की मांग भी रखी

Jamshedpur :  जिला परिषद उपाध्यक्ष राजकुमार सिंह ने शनिवार को पूर्वी सिंहभूम जिले के उपायुक्त सूरज कुमार से मिलकर आसनबनी से खासमहल तक निर्माण कराने और कीताडीह हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में पानी की व्यवस्था करने की मांग की.

इलाके की है सबसे बड़ी समस्या

आसनबनी से खासमहल तक की सड़क का निर्माण कार्य पथ निर्माण विभाग की ओर से करीब 43 करोड़ रुपये की लागत से कराया गया था. काम गोविंदपुर हॉल्ट तक ही हुआ था. तब गोविंदपुर से खासमहल तक पेयजल विभाग की ओर से सड़क के बीचों-बीच जलापूर्ति पाइप-लाइन बिछाने का काम चल रहा था. करीब साढ़े 4 किमी सड़क काफी जर्जर हो गई है और इसपर लोगों का आवागमन भी दुश्वार हो गया है. सड़क दुर्घटनाओं को भी आमंत्रण दे रही है.

Catalyst IAS
ram janam hospital

2019 में समाप्त हुआ था कार्य

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

2019 में यह काम खत्म हो जाने के बाद भी जब सड़क निर्माण नहीं शुरू किया गया, तो राजकुमार सिंह ने इस मुद्दे को उठाना शुरू किया. उन्होंने पथ निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता,  पूर्वी सिंहभूम के उपायुक्त, मुख्य सचिव, झारखंड सरकार तथा सचिव पथ निर्माण विभाग से व्यक्तिगत रूप से मिलकर और उन्हें पत्र एवं ज्ञापन देकर सड़क बनवाने का आग्रह किया. उनके प्रयासों के फलस्वरूप सचिव पथ निर्माण ने पथ निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता को सरीब साढ़े 4 किमी पथांश का निर्माण कराने का निर्देश दिया. इसके उपरांत कार्यपालक अभियंता द्वारा विभागीय मुख्य अभियंता से सड़क निर्माण के लिए निविदा निकालने की स्वीकृति हेतु आग्रह किया गया, लेकिन इसके बाद कार्य में कोई प्रगति नहीं होते देख राजकुमार सिंह ने दिशा की बैठक में भी इस रोड के मुद्दे को उठाया और इसपर चर्चा हुई. जिला परिषद उपाध्यक्ष ने पांच दिन पहले पथ निर्माण विभाग के कार्यपालक अभियंता से दोबारा मुलाकात कर सड़क निर्माण शीघ्र कराने की मांग की. कार्यपालक अभियंता ने बताया कि वे उक्त पथांश के निर्माण का टेंडर निकालने के लिए स्वीकृति हेतु मुख्य अभियंता को लिख चुके हैं और दोबारा फिर पत्र लिखकर शीघ्र स्वीकृति देने का आग्रह करेंगे. उपायुक्त के साथ मुलाकात में राजकुमार सिंह ने उपायुक्त से इसके निर्माण के लिए अपने स्तर से पहल करने का आग्रह किया.  उपायुक्त ने कहा कि वे संबंधित अधिकारियों से इस बारे में बात करेंगे.

हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में पानी नहीं

राजकुमार ने दूसरे बिंदु के रूप में कीताडीह स्थित हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में पानी की समस्या के बारे में जानकारी दी. इस सेंटर में वर्ष 2014 से ही पानी की किल्लत है. राजकुमार सिंह की ओर से निजी टैंकरों से सेंटर के नीचे बने पानी के टैंक में जलापूर्ति की जाती है.  फिर वहां से पानी पंप कर ऊपर टंकी में चढ़ाया जाता है. इसपर उपायुक्त ने कहा कि वे इस समस्या को जल्दी ही दूर करायेंगे.

इसे भी पढ़ें- मंत्री बन्ना गुप्ता का करीबी और भाजपा नेता अभय सिंह के रिश्तेदार होने का धौंस जमा जोमैटो ब्वॉय से छीने रुपये, युवकों ने पकड़कर किया पुलिस के हवाले

 

 

Related Articles

Back to top button