JharkhandRanchi

राजेश ठाकुर ने प्रणब मुखर्जी से मुलाकात के क्षणों को किया याद

विज्ञापन

Ranchi : भारत रत्न से सम्मानित देश के पूर्व राष्ट्रपति  डॉक्टर प्रणव मुखर्जी के निधन पर झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने गहरा शोक व्यक्त किया है. उन्होंने कहा है कि दिवंगत नेता प्रणब मुखर्जी एक अत्यंत ही सरल सहज व्यक्तित्व के स्वामी थे. उनसे कई बार मिलने का अवसर प्राप्त हुआ था.

दिल्ली विश्वविद्यालय में NSUI की राजनीति के शुरुआती दिनों में भी उनसे मुलाक़ात हुई थी. उसके बाद बतौर केंद्रीय मंत्री उनका राजभवन में आना हुआ था. वे विनोबा भावे विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में बतौर मुख्यातिथि शामिल हुए थे. उनके इस दौरे में मुझे सेवा का सुखद अवसर प्राप्त हुआ था, जो मुझे जीवन भर याद रहेगा.

इसे भी पढ़ें – पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर 7 दिन का राजकीय शोक

advt

ठाकुर ने कहा कि उनकी सेवा के दौरान ऐसा लगा मानो वह घर के बुजुर्ग सदस्य हैं और जो घर के बड़े बुजुर्ग अपने बच्चों  के साथ व्यवहार रखते हैं, वही व्यवहार उनका मेरे साथ था. रांची एवं हज़ारीबाग़ में उनके साथ रहने के दौरान ऐसा लगा मानो कभी भी मुलाक़ात होगी तो वो मुझे निश्चित रूप से पहचान लेंगे. वो सभी से बड़े सहज तरीक़े से मिलते थे. ऐसा लगता था कि कुछ देर के लिए वो घर के सदस्य हो जाते थे.

जिन छात्रों को दीक्षांत समारोह के दौरान उन्होंने उपाधि देने का काम किया वो छात्र भी आह्लादित होते थे. छात्रों की ख़ुशी देखते ही बनती थी. छात्रों को संबोधन के दौरान ऐसा लगता था कि वो दिल से बोल रहे हैं.

सम्बोधन अत्यंत ज्ञानवर्धक होता था. बतौर राष्ट्रपति भी कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल के साथ उनसे मिलने का सौभाग्य प्राप्त हुआ. उस समय भी उनसे बातचीत करने का मौक़ा मिला. उन्हें  झारखंड के राजनीतिक गतिविधियों में काफ़ी रुचि थी. मुलाक़ात के दौरान उन्होंने गुरुजी का हाल पूछा था और सभी राजनैतिक दलों की  वर्तमान दलीय स्थिति के बारे में भी बातचीत की थी.

इसे भी पढ़ें – क्या लाखों डिसलाइक (अधिकांश यूपी-बिहार के) किसी बड़े आंदोलन के संकेत हैं?

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button