न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

जनहित की जगह जुमलों की सरकार है भाजपा : राजेश ठाकुर

पीएम द्वारा शुरू किये जा रहे आयुष्मान भारत सहित पूर्व में शुरू सभी योजनाओं पर खड़ा किया प्रश्नचिन्ह

146

Ranchi/Bokaro : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रांची दौरे से एक दिन पहले कांग्रेस पार्टी ने आयुष्मान भारत योजना सहित भाजपा द्वारा शुरू किये सभी योजनाओं पर प्रश्नचिन्ह खड़ा किया है. पार्टी प्रवक्ता राजेश ठाकुर बोकारो में प्रेसवार्ता कर कहा कि सभी योजनाएं की स्थिति क्या हैं, यह आज किसी से छिपी नहीं है. सत्ता में आने के बाद ही भाजपा ने खुशहाल भारत को पहले परेशान भारत बनाया. अब प्रधानमंत्री स्वयं आयुष्मान भारत बनाने रांची आ रहे है. जबकि हकीकत यह है कि वर्तमान भाजपा सरकार में जिस तरह की बदद्तर कानून व्यवस्था बिगड़ी है, उससे महामहिम सहित मुख्यमंत्री, मंत्री, व्यवसायी और आम आदमी परेशान है. उन्होंने जनहित के मुद्दे को अनदेखा कर भाजपानीत केंद्र और राज्य सरकार को सभी मोर्चो पर विफल करार दिया है.

इसे भी पढ़ें- प्रधानमंत्री रविवार को झारखंड से करेंगे महत्वाकांक्षी स्वास्थ्य योजना की शुरूआत

भाजपा का झूठ है आयुष्मान भारत योजना

पीएम मोदी की योजना पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि जिस आयुष्मान भारत योजना की शुरूआत पीएम रविवार को रांची से करने जा रहे है, उसकी शुरूआत तो वास्तव में गत 13 अप्रैल को छतीसगढ़ के बीजापुर से हो गयी थी. उस दौरान भाजपा ने जोर-शोर से यह प्रचारित किया था कि इस योजना की शुरूआत छतीसगढ़ से किया गया है. जबकि अब इसे झारखंड से शुरू करने की बात भाजपा कर रही है. दरअसल भाजपा की यह एक बड़ी झूठ है. भाजपा जिस प्रदेश में भी किसी योजना की शुरूआत करती है, वहां यही कहती है कि इस योजना की शुरूआत इस राज्य से हो रही है.

इसे भी पढ़ें-धनबादः अधिकारियों ने लिया सरस मेला का जायजा

पूर्व की सभी योजनाएं हो चुकी हैं फेल

उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत के लिए जो बजट निर्धारित किया गया है, वह नाकाफी है. यह योजना केवल भाजपा को आयुष्मान बनाने के लिए लागू की गई हैं. पूरा देश जानता है कि वर्तमान पीएम का कार्यकाल केवल 2019 तक का ही है, तो किसी भी योजना का लक्ष्य 2022 तक बताना विश्व का सबसे बड़ा जुमला है. इसके पहले ही भाजपा ने प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, अटल पेंशन योजना, जैसे कार्यक्रम की शुरूआत की थी. लेकिन सभी जानते है कि उक्त सभी योनजाएं फेल साबित हुई है.

silk_park

इसे भी पढ़ें-आयुष्मान भारत : झूठे आंकड़े पेश कर खोखला ढोल पीट रही है झारखंड सरकार

अपराधियों के आगे बेबस है पुलिस

राजेश ठाकुर ने कहा कि राजधानी रांची इन दिनों अपराधों की राजधानी बनते जा रही है. रघुवर राज्य में इन अपराधियों के आगे पुलिस पूरी तरह बेबस है. अगर ऑकड़ों को देखे, तो केवल राजधानी रांची में गत दो सप्ताह के अंदर 7 हत्याऐं और 3 दुष्कर्म की घटनाऐं घटी हैं. गत शुक्रवार को सीएम आवास के पास अपराधियों द्वारा पुलिस की राइफल छीनने की घटना, गत दिनों आवास के समक्ष एक व्यक्ति की हत्या बताती है कि कैसे राजधानी में अपराधियों का मन बढ़ गया है. इसी तरह बोकारो एसपी आवास के आगे दुष्कर्म का प्रयास किया जाना, बेरमो में तीन घरों में डकैती राज्य में गिरती कानून-व्यवस्था को बताती है. विधि-व्यवस्था के खराब हालात पर राज्यपाल ने भी डीजीपी एवं अन्य पुलिस पदाधिकारियों को राजभवन तलब कर नाराजगी जताया था. इसके बाद भी मुख्यमंत्री रघुवर दास खामोश है.

इसे भी पढ़ें-बिजली समस्या को लेकर 27 को सड़क पर उतरेंगे विधायक अरूप चटर्जी

सभी मोर्चों पर विफल हैं भाजपा

उन्होंने कहा कि केन्द्र एवं राज्य की भाजपानीत सरकार सभी मोर्चो पर विफल है. जनहित से जुड़ी समस्याओं को समाप्त करने की जगह भाजपा सिर्फ जुमलों की सरकार बन कर रह गयी है. पेट्रोल-डीजल, किरोसिन, गैस की मूल्यों में बेतहाशा वृद्धि, डॉलर के मुकाबले रूपये के मूल्य में लगातार गिरावट, रोजगार नहीं देने, महिला सुरक्षा के नाम पर खानापूर्ति, भूमि अधिग्रहण संशोधन बिल के नाम पर आदिवासी मूलवासी को प्रताड़ित करने, मॉब लिंचिंग के मामलों में वृद्धि भाजपा की पहचान बनकर रह गयी है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: