न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

नाबालिग से रेप मामले में एक महिला समेत MLA राजबल्लभ यादव को उम्रकैद की सजा

चार अन्‍य दोषियों को 10-10 साल की सजा

30

Patna: नाबालिग से दुष्कर्म मामले में दोषी करार दिये जाने के बाद राजद विधायक राजबल्ल्भ यादव को कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुनायी है. राजद से निलंबित विधायक राजबल्ल्भ यादव के साथ-साथ छह लोगों को भी कोर्ट ने सजा सुनाई है. MLA राजबल्लभ यादव के साथ-साथ सुलेखा नाम की महिला को भी आजीवन कारावास की सजा सुनायी गयी है. कोर्ट ने अन्य चार दोषियों को 10- 10 साल की सजा सुना दी है. MP-MLA कोर्ट ने आर्थिक जुर्माना भी लगाया है.

इन सभी लोगों को कोर्ट ने पहले ही दोषी मान लिया था. शुक्रवार 21 दिसंबर को एमपी-एमएलए कोर्ट ने सिर्फ सजा की बिंदु पर सुनवाई की और फिर सजा का एलान कर दिया.

इससे पहले बीते 14 दिसंबर को सुनवाई के बाद विशेष जज परशुराम सिंह यादव ने आरोपपत्र पर दोनों पक्षों की बहस के बाद दोषी करार दिया था और सजा पर फैसला सुरक्षित रख लिया था. दोनों पक्षों की करीब चार महीने तक गवाही चली. अभियोजन की ओर से 22 और बचाव पक्ष की ओर से 15 गवाहों ने गवाही दी थी.

क्‍या है मामला

6 फरवरी, 2016 को इन लोगों ने एक नाबालिग से दुष्कर्म किया था. पीड़िता ने आरोप लगाया था कि इन लोगों ने बर्थ डे पार्टी के बहाने अनजान जगह पर ले जाकर जबरन शराब पिलायी और दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया.

राजबल्लभ यादव राजद के प्रमुख नेता रहे हैं. उनपर पहले भी कई आपराधिक मामले चलते रहे हैं. इन्हें लालू यादव का करीबी भी माना जाता है. मामले में उनके अलावा संदीप सुमन उर्फ पुष्पंजय कुमार, राधा देवी, राधा की बेटी सुलेखा देवी, छोटी उर्फ अर्पिता और टिशु कुमार अभियुक्त बनाये गये थे. सबोंं को सजा मिली है. आर्थिक दंड भी लगाया गया है.

अब राजबल्लभ यादव को पूरी जिन्दगी जेल में ही काटनी होगी. बिहार विधानसभा की सदस्यता भी चली जाएगी. अब नवादा में भी लोकसभा चुनाव के साथ बिहार विधानसभा का चुनाव संपन्न कराया जा सकता है. सजा सुनाए जाने के बाद राजबल्ल्भ यादव का चेहरा लटका हुआ था. कोर्ट में सुरक्षा की करी व्यवस्था थी. सभी सजायाफ्ता को जेल भेज दिया गया है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: