न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

राजस्थानः PM मोदी के कार्यक्रम में काले कपड़े वालों की एंट्री बैन

बुर्का पहनी महिलाओं को लौटाया गया

469

Jaipur: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केंद्र और राजस्थान सरकार की योजनाओं का लाभ उठाने वाले लोगों से मिलने के लिए शनिवार को जयपुर आ रहे हैं. इस दौरान राज्य भर से करीब सवा दो लाख सरकारी योजनाओं के लाभार्थी प्रधानमंत्री मोदी से सीधा संवाद करने के लिए जयपुर आए हुए हैं. लेकिन काला कपड़ा इनके लिए परेशानी का सबब बन गया है. दरअसल जिस किसी ने भी काले रंग के कपड़े पहने हैं, या तो वो उतरवाये जा रहे हैं, या फिर उन लोगों को वापस लौटाया जा रहा है. इसके पीछे मकसद ये है कि काले कपड़े के जरिए सभा में ये लोग कहीं कोई धरना प्रदर्शन न शुरू कर दे.

mi banner add

इसे भी पढ़ेंः खूंटीः घाघरा गांव पहुंचा संयुक्त विपक्ष, घरों में लटका ताला

किसी के पास अगर काली रुमाल है, या काले मोजे, कोई काला पैंट पहन लिया है तो कोई काली शर्ट. किसी ने काला मफलर लगा लिया है तो कोई काला दुपट्टा. हर किसी के काले कपड़े को उतरवाया जा रहा है. इतना ही नहीं पुरुषों की काली बनियान भी निकलवा दी गई है.

मुस्लिम महिलाओं को लौटाया

काला बुर्का पहनकर आने वाली मुस्लिम महिलाओं को भी लौटना पड़ रहा है. जगह-जगह जहां पर भी मेटल डिटेक्टर लगे हुए हैं वहां काले कपड़ों का पहाड़ खड़ा हो गया है. मुश्किल तब आ रही है जो लोग काला पैंट और शर्ट पहन के आए हुए हैं.

शनिवार को पहना काला कपड़ा

कई लोग ऐसे हैं जो दिन के हिसाब से कपड़े का रंग चुनते और पहनते हैं. शनिवार होने की वजह से भी काला कपड़ा पहन कर आ लोग बहुत हैं. कार्यक्रम में शामिल होने आये लोगों का कहना है कि इस बारे में सरकार को पहले यह बता देना चाहिए था या अखबारों में विज्ञप्ति दे देनी चाहिए थी कि काला कपड़ा पहनकर नहीं आना है. क्योंकि कुछ लोग 300-400 किलोमीटर दूर से आए और काला कपड़ा पहन कर आ गए हैं उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

Related Posts

राज्यसभा में बोले पीएम, मॉब लिंचिंग का दुख, पर पूरे झारखंड को बदनाम करना गलत

सरायकेला की घटना पर जताया दुख, कहा- न्याय हो, इसके लिए कानूनी व्यवस्था है

इसे भी पढ़ेंःछत्तीसगढ़ में 27 नक्सली गिरफ्तार, सात ने किया आत्मसमर्पण

वहीं अफसरों  ने दलील दी है कि, ‘सरकार का निर्देश है, हम कुछ नहीं कर सकते हैं. किसी भी सूरत में किसी भी व्यक्ति को काला कपड़ा पहनकर अंदर जाने की इजाजत नहीं दे सकते हैं.’ यहां तक कि कोई व्यक्ति अगर काला बैग लेकर आया है तो उसे बाहर छोड़ना पड़ रहा है.

कांग्रेस ने ली चुटकी

उधर कांग्रेस ने पूरे मामले पर चुटकी लेते हुए इसे भगवान शनि का अपमान बताया है. कांग्रेस का कहना है कि काले से मोदी सरकार को इतना नहीं डरना चाहिए. आज शनिवार का दिन है और काले कपड़े नहीं पहने देना भगवान शनि का अपमान है और शनिवार के दिन काले का अपमान बीजेपी को भारी पड़ सकता है.

दरअसल, पिछली बार जब पीएम मोदी की झुंझुनू में रैली हुई थी, उस दौरान काले झंडे दिखाये गये थे, और लोगों ने धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया था. इसलिए इस बार के पीएम मोदी के कार्यक्रम को लेकर राजस्थान सरकार काफी सतर्क है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: