Corona_UpdatesMain Slider

Good News :  रेलवे ने 15 अप्रैल से सेवाएं बहाल करने के लिए तैयारी शुरू की, राजस्थान में चरणबद्ध खत्म हो सकता है लॉकडाउन

New Delhi : रेलवे ने कोरोना वायरस के कारण यात्री ट्रेनों को 21 दिन तक स्थगित करने के बाद 15 अप्रैल से अपनी सभी सेवाएं बहाल करने की तैयारी शुरू कर दी है.

सूत्रों ने बताया कि रेलवे के सभी सुरक्षा कर्मियों, स्टाफ, गार्ड, टीटीई और अन्य अधिकारियों को 15 अप्रैल से अपने-अपने कार्यस्थलों पर लौटने के लिए तैयार रहने को कहा गया है.

इसे भी पढ़ेंः इन तथ्यों व आंकड़ों से समझें देश को बेकार की बातों में क्यों उलझा रहे हैं पीएम मोदी

ट्रेनों का संचालन सरकार से हरी झंडी मिलने के बाद ही शुरू होगा. सरकार ने इस मुद्दे पर मंत्रियो का समूह गठित किया है. इस बीच, रेलवे ने ट्रेनों के संचालन की समयसारिणी, उनके फेरे और बोगियों की उपलब्धता के साथ अपने सभी रेल जोनों को सेवाओं को ‘‘बहाल करने की योजना’’ जारी की है.

सूत्रों ने बताया कि सभी 17 जोनों को अपनी-अपनी सेवाएं संचालित करने के लिए तैयार रहने का संदेश दिया गया है. 15 अप्रैल से करीब 80 प्रतिशत ट्रेनों के निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार चलने की संभावना है जिनमें राजधानी, शताब्दी, दुरंतो ट्रेनें शामिल हैं.

स्थानीय ट्रेनों की सेवाएं भी चालू हो सकती हैं. सूत्रों ने बताया कि इस सप्ताह के अंत में जोनों को ठोस कार्य योजना भेजी जाएगी.

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री द्वारा 24 मार्च को बंद की घोषणा करने के बाद अभूतपूर्व कदम उठाते हुए रेलवे ने 21 दिनों के लिए 13,523 ट्रेनों की सेवाएं निलंबित कर दी थी. इस दौरान उसकी मालवाहक ट्रेनें चलती रही हैं.

इसे भी पढ़ेंः NEET के सिलेबस में बदलाव की सूचना हुई वायरल, NTA ने नोटिस जारी कर बताया फेक

लॉकडाउन को चरणबद्ध रूप से हटाने के लिए सुझाव

इधर, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए लागू लॉकडाउन से आगे की रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है.

एक उच्चस्तरीय बैठक में उन्होंने इसके लिए संपूर्ण लॉकडाउन को चरणबद्ध रूप से हटाने के लिए सुझाव देने तथा इससे प्रभावित हुई अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाने के संबंध में सुझाव देने के उद्देश्य से दो टास्क फोर्स का गठन किया है.

इसके लिए शुक्रवार को आदेश जारी किए गए.

गहलोत ने लॉकडाउन हटाने के लिए महत्वपूर्ण उपाय सुझाने के लिये अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह राजीव स्वरूप की अध्यक्षता में 12 अधिकारियों और विशेषज्ञों की पहली टास्क फोर्स गठित की है.

दूसरी टास्क फोर्स मुख्यमंत्री के आर्थिक सलाहकार एवं राजस्थान ट्रांसफोर्मेशन काउंसिल के उपाध्यक्ष अरविन्द मायाराम की अध्यक्षता में बनाई है लॉकडाउन को चरणबद्ध रूप से हटाने के लिए सुझाव देने तथा अर्थव्यवस्था के संबंध में दो टास्क फोर्स गठित

जयपुर, तीन अप्रैल (भाषा) राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए लागू लॉकडाउन से आगे की रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है.

एक उच्चस्तरीय बैठक में उन्होंने इसके लिए संपूर्ण लॉकडाउन को चरणबद्ध रूप से हटाने के लिए सुझाव देने तथा इससे प्रभावित हुई अर्थव्यवस्था को फिर से पटरी पर लाने के संबंध में सुझाव देने के उद्देश्य से दो टास्क फोर्स का गठन किया है. इसके लिए शुक्रवार को आदेश जारी किए गए.

गहलोत ने लॉकडाउन हटाने के लिए महत्वपूर्ण उपाय सुझाने के लिये अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह राजीव स्वरूप की अध्यक्षता में 12 अधिकारियों और विशेषज्ञों की पहली टास्क फोर्स गठित की है.

दूसरी टास्क फोर्स मुख्यमंत्री के आर्थिक सलाहकार एवं राजस्थान ट्रांसफोर्मेशन काउंसिल के उपाध्यक्ष अरविन्द मायाराम की अध्यक्षता में बनाई है. पहली टास्क फोर्स लॉकडाउन हटाने की स्थिति के बारे में जल्द से जल्द अपने सुझाव देगी, जिन्हें भारत सरकार को भेजा जाएगा.

इसी प्रकार दूसरी टास्क फोर्स अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए रणनीति तैयार करेगी.

इसे भी पढ़ेंः #Ranchi के जिस इलाके से मिली पहली कोरोना पॉजिटिव वहां कूड़ा नहीं उठायेंगे #CoronaWarriors, निगमकर्मी से मारपीट पर पूर्व पार्षद की गिरफ्तारी की मांग

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button