ChaibasaJharkhand

CHAKRADHARPUR : कृष्ण जन्माष्टमी मेला के आयजको को रेलवे ने थमाया 1.34 लाख किराया जमा करने का नोटिस

CHAKRADHARPUR : एक बार फिर से चक्रधरपुर में लगे जन्माष्टमी मेला पर संकट के काले बादल मंडराने लगे हैं. रेलवे ने मेला आयोजकों को मेला लगाने के लिए रेल क्षेत्र का किराया जमा करने का फरमान जारी किया है. रेलवे ने कुल 16,350 स्क्वायर फीट की जमीन पर लगने वाली मेला के लिए आयोजकों से कुल 1,33,901 रुपये रेलवे के खाते में जमा करने को कहा है. इसको लेकर रेलवे ने बकायदे मेला आयोजकों व पूजा समितियों को रेलवे के वरीय वित्त प्रबंधक के मार्फ़त इंजीनियरिंग विभाग से पत्र जारी किया गया है. चक्रधरपुर केंद्रीय कृष्ण जन्माष्टमी मेला कमिटी का कहना है की रेलवे ने जो किराया वसूली का फरमान जारी किया है यह पिछले बार लगे मेला से तीन गुना अधिक है. इससे पहले काफी कम किराया वसूला जाता था. इसको लेकर आयोजन समिति रेलवे से वार्ता करेगी. मालूम रहे की रेलवे ने मेला शुरू होने के पांच घंटे पहले मेला आयोजकों को यह फरमान जारी किया है. जिसके कारण आयोजकों में रेलवे को लेकर भारी नाराजगी है. इसके अलावे रेलवे ने मेला लगाने के लिए कई कई शर्तें भी रखी है. स्थायी संरचना नहीं बनाया जाएगा, रेल जमीन की सुरक्षा की जिम्मेदारी रखनी होगी, गंदगी को हटाने की जिम्मेदारी पूजा समितियों की होगी. पूजा समितियों को आग से बचाव की तैयारी पहले से करके रखनी होगी, विधि व्यवस्था की भी जिम्मेदारी पूजा समितियों की होगी, मेला में अप्रिय घटना और जानमाल के नुकसान की भी पूरी जिम्मेदारी पूजा समितियों की होगी. रेल संपत्ति का नुकसान हुआ तो आयोजक में मौजूद रेल कर्मियों की वेतन से नुकसान की भरपाई होगी और सीसीटीवी लगाने का भी निर्देश रेलवे ने आयोजकों को दिया है. इसके साथ साथ रेलवे ने आयोजकों को अस्थायी शौचालय भी बनाने को कहा है ताकि गंदगी ना फैले और कोविड 19 के दिशा निर्देशों का भी पालन करने को कहा गया है.

ये भी पढ़ें : श्रीकृष्ण जन्माष्टमी: देखिए जमशेदपुर के चित्रकार उत्तम मल्लिक ने कृष्ण को कैनवास पर कैसे उकेरा

Related Articles

Back to top button