Ranchi

रांची के बिरसा मुंडा कारावास समेत राज्य के सभी जेलों में एकसाथ छापेमारी, कैदियों में हड़कंप

Ranchi: राजधानी के बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार समेत राज्य के सभी जेलों में प्रशासन ने छापा मारा. होटवार जेल के साथ-साथ पलामू सेंट्रल जेल, सिमडेगा मंडल कारा, लोहरदगा जेल, दुमका जेल और खूंटी उपकारा में भी सोमवार की अहले सुबह जिले के एसपी और प्रशासनिक अधिकारियों के नेतृत्व में छापेमारी अभियान चलाया गया. खबर है कि डीजीपी के निर्देश पर राज्य के सभी जेलों में कार्रवाई की गई.

राज्य के सभी जेलों में की गयी छापेमारी से कैदियों के बीच हड़कंप मच गया. सभी जेल में करीब दो घंटे तक पुलिसकर्मी पूरी मुस्‍तैदी से आपत्तिजनक चीजें ढूंढने में जुटे रहे. लेकिन खूंटी उपकारा को छोड़कर किसी भी जेल से कोई भी आपत्तिजनक वस्तु बरामद नहीं हुई.

इसे भी पढ़ेंःलातेहारः आदिवासी वृद्धा ऐतवारी देवी का कई वर्षों से बंद है पेंशन और राशन

दुमका जेल में हुई छापेमारी में एसपी, एसडीओ,डीएसपी समेत 200 से अधिक जवान थे. इस दौरान कोई भी आपत्तिजनक वस्तुएं बरामद नहीं हुई.

कई बड़े नक्सली व अपराधी हैं जेल में बंद

बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार रांची, पलामू सेंट्रल जेल, सिमडेगा मंडल कारा, दुमका जेल, लोहरदगा जेल और खूंटी उपकारा में झारखंड के कई बड़े आपराधिक संगठन से तालुक रखनेवाले अपराधी और कई कुख्यात नक्सली बंद हैं. इससे पहले भी इन सभी जेलों में छापेमारी की जा चुकी है.

बता दें कि इन जेलों से कई आपराधिक घटनाओं के तार पहले से जुड़े हैं. जेल के अंदर से ही कई बार रंगदारी मांगी जाने की बात भी सामने आ चुकी है.

20 दिन पहले सिमडेगा जेल से मिला था चाकू

सिमडेगा उपायुक्त के निर्देश के 4 जून की दोपहर एसडीओ जगबंधु महथा के नेतृत्व में सिमडेगा मंडलकारा में दो घंटे तक छापेमारी की गई थी. छापेमारी के दौरान दो चाकू, छोटी कैंची और एक पुराना ब्लेड बरामद किया गया था.

इस बाबत अनुमंडल पदाधिकारी जगबंधु महथा ने बताया था कि उपायुक्त के निर्देश पर जेल में वृहद रूप से छापेमारी की गई. इस दौरान सभी वार्ड एवं एक-एक बिस्तर की जांच की गई थी. इस क्रम में फेंके गए लाल रंग के झोले से चाकू व अन्य सामग्री बरामद की गई.

इसे भी पढ़ेंःमंत्री जी ने कहा था, हुई है अटल वेंडर मार्केट में गड़बड़ी, अब खुद ही बांट रहे सर्टिफिकेट

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: