न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

बेरमो SDPO की छापामारी व 21 ट्रकों की जब्ती ने उजागर किया कोयले के बंगाल से बिहार-यूपी तक के काले कारोबार को

1,366

Bermo: बेरमो SDPO एससी जाट द्वारा शुक्रवार 14 दिसंबर की रात बेरमो तथा जरीडीह थाना क्षेत्र में जांच अभियान चलाकर जिन 21 कोयला लदे ट्रकों को जब्त किया गया, उससे इस बात का खुलासा हो गया कि चाहे कुछ भी हो जाये बोकारो जिला से कोयला की तस्करी का कारोबार बंद नहीं हो सकता है.

eidbanner

बेरमो एसडीपीओ को सूचना मिली थी कि कोयला के अवैध कारोबारियों के द्वारा इन दिनों तस्करी के लिए एक नये रुट का इजाद कर कोयला के काले कारोबार का काम धड़ल्ले से किया जा रहा है. जिसमें बंगाल, झारखंड, बिहार एवं यूपी के कई थाने शामिल हैं.

अवैध कारोबार के नये रुट का केंद्र पुरुलिया

कोयला के अवैध कारोबार का नया केंद्र बिंदु बंगाल का पुरुलिया था. सूत्रों की मानें, तो पुरुलिया में जो अवैध कोयला जमाकर बिहार एवं यूपी की मंडियों में भेजा जा रहा था. वहां कोयला बोकारो, गिरिडीह, हजारीबाग जिला के विभिन्न थाना क्षेत्रों से ले जाकर जमा किया जाता था. बोकारो जिला के नावाडीह,पेंक नारायणपुर,चंदनकियारी,अमलाबाद,हजारीबाग के विष्णुगढ़, गिरिडीह के बगोदर, डुमरी, निमियांघाट आदि थाना क्षेत्रों में चलने वाले डिपो में जमा कोयला को पहले ट्रकों से पुरुलिया ले जाया जाता है. उपरोक्त थाना क्षेत्रों में चलने वाले कोयला के डिपो में सीसीएल की कोलियरियों से कोयला बाइक्स एवं ट्रैक्टरों से ले जाकर जमा किया जाता है.

कोयला के अवैध कारोबार के नये रुट का केंद्र था बोकारो

बंगाल के पुरुलिया से चलने वाले कोयला के अवैध कारोबार के नये रुट का मुख्य केंद्र बोकारो जिला के पड़ने वाले थाना क्षेत्रों में बालीडीह, जरीडीह, बेरमो, पेटरवार एवं नावाडीह था.

उक्त रुट के दुबड़ा, आईटी मोड़, बालीडीह, जरीडीह, बेरमो और नावाडीह के रास्ते ये अवैध कोयला यूपी पहुंच रहा है. सूत्रों का कहना है कि कोयला की तस्करी का मास्टरमाइंड पुरूलिया जिले के नितोरिया थाना क्षेत्र के भाभोरिया का रहने वाला एक मांझी है. एक कोल फैक्ट्री के नाम पर कोयला के जाली पेपर बनाए जा रहे हैं. इस गोरखधंधे में धनबाद का एक कोल माफिया सहित तीन-चार कारोबारी शामिल है. उनमें से एक कारोबारी का रांची सहित जिलों के पुलिस आला अधिकारियों से मधुर संबंध हैं और उन अधिकारियों के नाम पर प्रत्येक माह करोड़ों रुपयों की अवैध वसूली की जा रही है.

पूरे मामले में बेरमो एसडीपीओ एससी जाट का कहना था कि जब्त किये गये 21 ट्रकों के साथ उनके चालक एवं खलासी को भी गिरफ्तार किया गया है. ट्रकों के जांच में जो कागजात मिले, वे अवैध पाये गये हैं जिनकी जांच की जा रही है. ट्रकों में कोयला बंगाल के पुरुलिया से यूपी ले जाया जा रहा था.

इसे भी पढ़ेंः कई विभागों में 60 से 80 फीसदी तक कर्मचारियों की कमी, नियमावली के पेंच में फंसी है बहाली

 

इसे भी पढ़ेंः सूबे में प्रदूषण रोकने के लिए बना था 655.5 करोड़ का एक्शन प्लान, नहीं हुआ काम 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: