न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राहुल ने प्रवासी भारतीयों को बताया, दुख है कि भारत में साढ़े चार साल असहिष्णुता के रहे हैं

भारत में पिछले साढ़े चार साल से असहिष्णुता का माहौल है.  भारत असहिष्णुता और बंटवारे की स्थिति का सामना कर रहा  है. ऐसा भारत कभी सफल और मजबूत नहीं हो सकता.  

16

UAE : भारत में पिछले साढ़े चार साल से असहिष्णुता का माहौल है.  भारत असहिष्णुता और बंटवारे की स्थिति का सामना कर रहा  है. ऐसा भारत कभी सफल और मजबूत नहीं हो सकता.  संयुक्त अरब अमीरात (UAE) के दौरे पर गये कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने यहां नरेंद्र मोदी पर हमलावर रहे. इस क्रम में कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की जीत के बाद देश को फिर से एकजुट किया जायेगा.  बेरोजगारी सहित सभी चुनौतियों से निपटा जायेगा. बता दें कि दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में शुक्रवार को भारतीय प्रवासियों से मुखातिब राहुल गांधी ने यहसब कहा. कहा कि देश को फिर से एकजुट करने और समस्याओं का समाधान करने में सब मदद करें. राहुल ने कहा कि मैंने आज दुबई के शासक शेख मोहम्मद से मुलाकात की. मुझे उनके भीतर विन्रमता का आभास हुआ. उनके अंदर एक फीसदी भी अहंकार नहीं था. एक ऐसे नेता जो लोगों की सुनता है और कदम उठाता है. यह देश कई आवाजों से मिलकर बना है.

यह यूएई में सहिष्णुता का साल रहा है

राहुल ने कहा, यूएई और भारत को साथ लाने वाले मुख्य मूल्य विनम्रता और सहिष्णुता है. यह यूएई में सहिष्णुता का साल रहा है. मुझे यहकर दुख हो रहा है कि हमारे यहां साढ़े चार साल असहिष्णुता के रहे हैं.  कहा कि आप भारत के भविष्य हैं और हम आपके बिना भारत का निर्माण नहीं कर सकते. आपने जो यूएई, अमेरिका और यूरोप में किया है, वो भारत में  कीजिए. मैं आपसे यह वादा चाहता हूं कि आप साथ खड़े होइए और भारत में जो दो तीन बड़ी समस्याएं हैं उनके दूर करने में मदद करिए. राहुल ने कहा,  सबसे बड़ी समस्या यह है कि एक अरब से अधिक आबादी वाले देश में लोग भयावह बेरोजगारी का सामना कर रहे हैं. लोग नोटबंदी और जीएसटी से परेशान हो चुके हैं. हमें रोजगार के मोर्चे पर फ्रंटफुट पर खेलना है.  कहा कि भारत सिर्फ बेरोजगारी पर जीत हासिल कर सकता है और चीन पर भारी पड़ सकता है. आपको इसमें भूमिका निभानी होगी.

लेकिन हम भाजपा मुक्त भारत नहीं चाहते…

इस क्रम में राहुल ने कहा, भारत की रीढ़ की हड्डी किसान  आज गहरी परेशानी से घिरे हुए हैं. उनको भविष्य नहीं दिखाई दे रहा है. हमें दूसरी हरित क्रांति शुरू करनी है ताकि कृषि क्षेत्र में परिवर्तन लाया जा सके. आपको इसमें मदद करनी है.   हमें फिर से भारत को  एकजुट करना है. सभी लोगों, धर्मों, राज्य और समुदायों को साथ लाना है. बंटा हुआ भारत सफल और मजबूत नहीं हो सकता. अगर हमारा महान देश बंटा रहेगा तो कभी मजबूत नहीं हो सकता.  राहुल गांधी ने कहा, ‘कुछ लोग कहते हैं कि हम कांग्रेस मुक्त भारत चाहते हैं. लेकिन हम भाजपा मुक्त भारत नहीं चाहते हैं. हम एकजुट भारत चाहते हैं जहां हर कोई कहे कि हम पहले भारतीय हैं. हमें पूरा भरोसा है कि हम यह लोकसभा चुनाव जीतेंगे और भारत को फिर से एकजुट करेंगे.

इसे भी पढ़ें : सीबीआई निदेशक चुनने की कवायद, कई आईपीएस रेस में, मुंबई पुलिस कमिश्नर जायसवाल डार्क हॉर्स

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: