न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राहुल को अब भी उम्मीद, 2019 में साथ आयेंगी मायावती

राज्यों में हम लचीला रुख अपनाने को तैयार हैं- राहुल

145

New Delhi: एक ओर जहां बसपा प्रमुख मायावती कांग्रेस पर लगातार हमलावर है, वही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अब भी आस है कि 2019 में मायावती कांग्रेस के साथ आयेंगी. ज्ञात हो कि मायावती ने मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस से अलग जाने का ऐलान कर चुकी हैं. लेकिन इसके बावजूद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अभी भी भरोसा है कि आनेवाले आम चुनाव में राजनीतिक समीकरण बदलेंगे और मायावती कांग्रेस के साथ गठबंधन में शामिल हो जाएंगी. राहुल की मानें तो मायावती ने भी ऐसा ही संकेत दिया है.

इसे भी पढ़ेंःमायावती की कांग्रेस से नाराजगी पर बोले तेजस्वी, समय का कीजिए इंतजार

केंद्र-राज्यों में गठबंधन अलग मसला

hosp3

शुक्रवार को नई दिल्ली में एक कार्यक्रम में राहुल गांधी ने कहा है कि केन्द्र में गठबंधन और राज्य में गठबंधन अलग-अलग मसला है. राज्यों में लचीला रुख अपनाने की बात करते हुए उन्होंने कहा कि वास्तव में मैं तो अपने प्रादेशिक नेताओं से भी ज्यादा लचीला रवैया अपनाने को तैयार था. हमारी बातचीत बीच में ही थी, लेकिन मुझे लगता है कि उन्होंने अपना अलग रास्ता चुन लिया. राहुल ने कहा कि अच्छा होता अगर एलायंस हुआ होता. साथ ही कहा कि उन्हें यकीन है कि आम चुनाव के लिए मायावती साथ आ जाएंगी. राहुल गांधी ने कहा कि मेरी समझ में नेशनल इलेक्शन तक दोनों पार्टियां साथ होंगी, खासकर उत्तर प्रदेश में.

इसे भी पढ़ेंःप्रणव नमन कंपनी ने अच्छी क्वालिटी के कोयले में मिलाने के लिए कटकमसांडी रेलवे कोल साइडिंग में जमा कर रखा है हजारों टन चारकोल (देखें व पढ़ें ग्राउंड रिपोर्ट)

गौरतलब है कि कर्नाटक विधानसभा के नतीजों के बाद से ही संभावना जताई जा रही थी कि मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ में कांग्रेस और बसपा का गठबंधन हो सकता है. लेकिन मायावती ने छत्तीसगढ़ में पूर्व सीएम अजीत योगी से गठबंधन कर कांग्रेस कतो झटका दिया. इसके बाद मध्य प्रदेश और राजस्थान में भी मायावती ने कांग्रेस अलग होकर विधानसभा चुनाव में उतरने की घोषणा की है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: