न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

तेजपाल सिंह अपहरण कांड में पटना से राहुल कुमार गिरफ्तार, 14 दिन की रिमांड पर भेजा गया

बीते रविवार को भोजपुर के बिरमपुर गांव में छापेमारी कर अभिषेक चौधरी को गिरफ्तार किया गया था

1,533

Asansol : सालानपुर थाना क्षेत्र के नाकराजोरिया इलाके में स्थित आसनसोल अलॉयस प्राइवेट लिमिटेड के मालिक जोगिंदर सिंह के पुत्र तेजपाल सिंह और उनके कार चालक रवि कुमार के अपहरण मामले में राहुल कुमार नामक एक और अपराधी को सीआइडी ने गिरफ्तार कर लिया.

सीआइडी ने पटना (बिहार) के कंकड़बाग इलाके में सघन छापेमारी अभियान चलाकर राहुल को दबोचा. उसे गुरुवार को आसनसोल सीजेएम न्यायालय में पेश किया गया.

इसे भी देखें : भाजपा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी के खिलाफ गिरिडीह कोर्ट में केस दर्ज

अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी बाकी

मौके पर मौजूद सीआइडी के जांच अधिकारी ने फिरौती की राशि बरामद करने तथा कांड में शामिल दीपक कुमार व अमित कुमार सहित अन्य आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए राहुल की चौदह दिनों की रिमांड की मांग सीजेएम न्यायालय से की.

न्यायालय ने मामले पर सुनवाई करते हुए उसकी चौदह दिनों की रिमांड मंजूर कर उसे सीआइडी को सौंप दिया.

ज्ञात हो कि सीआइडी ने इस मामले में बीते रविवार को भोजपुर के बिरमपुर गांव में छापेमारी कर अभिषेक चौधरी को गिरफ्तार किया था. वह भी पुलिस रिमांड पर है.

इसे भी देखें : सुपर-30 के आनंद कुमार ब्रेन ट्यूमर से जूझ रहे, दायें कान की क्षमता 90 प्रतिशत खोयी

पटना के कनिष्क अपार्टमेंट में रखे गये थे अपहृत

Related Posts

Sanktoria: 24 सितंबर की एक दिवसीय हड़ताल टालने के लिए कोयला मंत्रालय हुआ सक्रिय

19 सितंबर को केंद्रीय कोयला मंत्री प्रहलाद जोशी की अध्यक्षता होगी बैठक

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अपह्त जोगिंदर सिंह ने सालानपुर थाने में शिकायत दर्ज करायी थी. शिकायत में उन्होंने कहा था कि बीते 17 अप्रैल की सुबह 10.30 बजे उनका पुत्र तेजपाल अपने ड्राइवर रवि के साथ कार से निकला था पर नहीं लौटा.

पुलिस ने दोनों को ढूंढ़ा पर सफलता हाथ नहीं लगी. कुछ दिनों बाद मामला सीआइडी को सौंप दिया गया.

सीआइडी सूत्रों के अनुसार आरोपियों ने तेजपाल और उनके चालक को अगवा कर पटना के कनिष्क अपार्टमेंट में छिपाकर रखा था तथा 20 अप्रैल से ही फिरौती की मांग करनी शुरू कर दी थी.

फिरौती लेने के बाद छोड़ा था दोनों को

19 मई को दोनों पक्षों के बीच समझौता होने के बाद फिरौती की रकम बिहार के फतेहपुर इलाके में आरोपियों द्वारा लेने के ठीक एक दिन के बाद मध्यरात्रि तेजपाल और उनके ड्राइवर को बरही मोड़ के पास आरोपियों ने छोड़ दिया था.

मामले पर जांच कर रही सीआइडी की टीम ने 7 जुलाई को बिहार के भोजपुर जिले के बिरमपुर इलाके से अभिषेक चौधरी को गिरफ्तार किया था. उसके बाद दीपक कुमार, अमित कुमार के अलावा कई व्यक्तियों के नामों का खुलासा हुआ था.

इसे भी देखें : लता मंगेशकर ने ट्वीट किया, नमस्कार एमएस धोनी जी, देश को आप के खेल की जरूरत, रिटायरमेंट का विचार छोड़ दें

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like

you're currently offline

%d bloggers like this: