न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राहुल गांधी के मंदिर-मंदिर दर्शन का राज खोला शशि थरूर ने

राहुल गांधी बहुत विचारशील, धर्म और अध्यात्म के बारे में सबसे ज्यादा पढ़ने वाले भारतीय  नेता हैं.  उनकी शिव केंद्रित संस्कृति और विष्णु केंद्रित संस्कृति से संबंधित अवधारणा आपको हैरान कर देगी

22

NewDelhi : राहुल गांधी बहुत विचारशील, धर्म और अध्यात्म के बारे में सबसे ज्यादा पढ़ने वाले भारतीय  नेता हैं.  उनकी शिव केंद्रित संस्कृति और विष्णु केंद्रित संस्कृति से संबंधित अवधारणा आपको हैरान कर देगी.  वह बौद्ध विपासना और हिंदू विपासना का अतंर बहुत अच्छी तरह से समझाने में सक्षम हैं. लोगों को इस बात का अहसास तक नहीं है कि यहां एक ऐसा लड़का है जो धर्म को लेकर काफी गंभीर है. राहुल गांधी के बारे में यह विचार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सांसद शशि थरूर के हैं. बता दें कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों कई मंदिरों में दर्शन करते हुए दिख जाते हैं.  इतना ही नहीं राहुल ने खुद को जनेऊधारी हिंदू और शिवभक्त तक बताया है.  लेकिन उनके इस कदम ने भाजपा को उनपर हमला करने का एक हथियार दे दिया.  सभी लोग कांग्रेस के अचानक पैदा हुए इस मंदिर प्रेम के बारे में जानना चाहते हैं.  इस विषय पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सांसद शशि थरूर ने अपनी बात रखी है. थरूर ने कहा कि लंबे समय से हमें लगता रहा है कि सार्वजनिक तौर पर अपनी निजी भावनाएं क्यों व्यक्त करें.

भाजपा ने सच्चे हिंदू और नास्तिक धर्मनिरपेक्ष की लड़ाई की साजिश रची

हम अपनी आस्था को फॉलो करते हैं लेकिन कभी उसे सार्वजनिक तौर पर प्रदर्शित करने के लिए बाध्य नहीं हुए. क्योंकि कांग्रेस नेहरू के धर्मनिरपेक्ष सिद्धांत वाली पार्टी है जिसकी जड़े स्वतंत्रता संग्राम आंदोलन से जुड़ी हैं.  इस क्रम में शशि थरूर कहा कि उनकी पार्टी के विवेक का भाजपा ने इस्तेमाल किया और उसे सच्चे हिंदू और नास्तिक धर्मनिरपेक्ष की लड़ाई में बदलने की साजिश रची. कहा कि एक देश जिसमें धार्मिकता गहरी है.  अगर बहस को उस तरह से फ्रेम किया जाये तो धर्मनिरपेक्षतावादी हमेशा हार जायेगा.  थरूर के अनुसार इसलिए  निर्णय लिया गया कि यही समय है जब हमें अपनी आस्था को दिखाना होगा. चुनावी दौरों के दौरान राहुल के मंदिर दर्शन का बचाव करते हुए  कहा कि इसे स्वार्थी अवसरवादी के तौर पर देखना गलत है.  उन्होंने दावा किया कि राहुल जब खुद को शिव भक्त बताते हैं तो उन्हें अच्छी तरह से पता होता है कि वह क्या कह रहे हैं.

इसे भी पढ़ें :  जज कुरियन जोसेफ ने कहा, सीजेआई दीपक मिश्रा को कोई बाहर से कंट्रोल कर रहा था

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: