न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राहुल गांधी का पूर्व सैनिक से वादा, सरकार में आएं तो लायेंगे ‘वन रैंक वन पेंशन’ स्कीम

19

NewDelhi: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को रिटायर्ड सैन्यकर्मियों से मुलाकात की. जहां राफेल डील समेत कई मसलों पर चर्चा हुई. इस मुलाकात में उन्होंने सेवानिवृत्त सैनिकों के एक समूह से कहा कि सत्ता में आने पर कांग्रेस ’वन रैंक, वन पेंशन’ (ओआरओपी) के मु्द्दे पर किए अपने सभी वादों को पूरा करेगी.

इसे भी पढ़ेंःऊर्जा विभाग के जीएम एचआर पर लगे कई गंभीर आरोप, आरोप पत्र गठित- कार्मिक ने किया शो-कॉज

पूर्व सैनिकों के साथ बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि अगर उनकी पार्टी 2019 के संसदीय चुनाव के बाद सत्ता में आती है तो ओआरओपी सहित सभी मांगें पूरी की जायेंगी. सैन्यकर्मियों के साथ मुलाकात में राफेल सौदे में ‘गड़बड़ी’ और ओआरओपी में सैनिकों के साथ ‘धोखे’ की बात उठाई गई. कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि मोदी सरकार ने राफेल डील की प्रक्रिया बदल दी. साथ ही सैनिकों के लिए वन रैंक वन पेंशन लागू नहीं किया गया.

इसे भी पढ़ेंःबकोरिया कांडः जब मुठभेड़ फर्जी नहीं थी, तो सीबीआई जांच से क्यों डर रही है सरकार !

राफेल जंगी जहाज सौदे के मुद्दे को उठाते हुए उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने 30 हजार करोड़ रूपये उद्योगपति अनिल अंबानी को दे दिये. लेकिन सैनिकों की ओआरओपी को पूरा करने से इंकार कर दिया.

इसे भी पढ़ेंःजेपीएससी लेक्चरर नियुक्ति : CBI ने विवि प्रबंधन से फिर पूछा, किस आधार पर हुई व्याख्याताओं की सेवा संपुष्ट

उन्होंने 30 मिनट तक चली इस बातचीत में कहा कि यह भारी-भरकम राशि ओआरओपी मसले को हल करने के लिए पर्याप्त है. कांग्रेस का आरोप है कि राफेल सौदे मामले में मोदी सरकार अनिल अंबानी के नेतृत्व वाली कंपनी के पक्ष में झुकी हुई है. कंपनी इन आरोपों से इनकार कर चुकी है.

इसे भी पढ़ेंःCBI विवादः IRCTC घोटाले में निदेशक वर्मा ने लालू प्रसाद के खिलाफ जांच करने से किया था मना- अस्थाना

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.


हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Open

Close
%d bloggers like this: