न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का गरीबी पर फाइनल वार कहा- गरीबों को देंगे 72 हजार रुपया सालाना

1,615

New Delhi: आज पहले चरण के लोकसभा चुनावों के लिए नामांकन की आखिरी तारीख है. संभावना है कि आज कई बड़े नेता नामांकन का पर्चा दाखिल कर सकते हैं. दूसरी तरफ, राष्ट्रीय और क्षेत्रीय पार्टियों ने अपने-अपने इलाके में चुनाव प्रचार भी शुरू कर दिये हैं. इस दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बड़ी घोषणा की है.

उन्होंने कहा है कि वे गरीब भारतीय नागरिकों को 72 हजार रुपया सालाना देंगे. कहा कि हमने भारत की गरीबी पर फाइनल वार किया है. अगर मोदी अमीरों को पैसा दे सकते हैं तो फिर कांग्रेस गरीबों को पैसा क्यों नहीं दे सकती है.

इसे भी पढ़ेंः जनता तय करे, उन्हें आतंकियों को ‘जी’ और ‘साहब’ बोलने वाला चाहिए या सेना के पराक्रम को सराहने वालाः बीजेपी

12000 रुपये महीने की आय वाले परिवारों को न्यूनतम आय गारंटी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव से पहले सोमवार को बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि उनकी पार्टी की सरकार बनने पर देश के हर गरीब परिवार को सालाना 72 हजार करोड़ रुपये दिये जायेंगे.

पार्टी की कार्य समिति की बैठक के बाद गांधी ने संवाददाताओं से कहा, ‘ पिछले पांच वर्षों में देश की जनता को बहुत मुश्किलें सहनी पड़ी हैं. हमने निर्णय लिया और हम हिंदुस्तान के लोगों को न्याय देने जा रहे हैं. यह न्याय न्यूनतम आय गारंटी है. ऐसी योजना दुनिया में कहीं नहीं है.’  उन्होंने कहा, ‘ हम 12000 रुपये महीने की आय वाले परिवारों को न्यूनतम आय गारंटी देंगे.

कांग्रेस गारंटी देती है कि वह देश में 20 फीसदी सबसे गरीब परिवारों में से प्रत्येक को हर साल 72000 रुपये देगी. यह पैसा उनके बैंक खाते में सीधा डाल दिया जाएगा.’

इसे भी पढ़ेंः ‘छपाक’: दीपिका की पहली झलक जारी, एसिड अटैक सर्वाइवर लुक में पहचानना मुश्किल

गरीबी पर आखिरी हमला

राहुल ने कहा, ‘अगर मोदी जी सबसे अमीर लोगों को पैसा दे सकते हैं तो कांग्रेस भी सबसे गरीब लोगों को पैसा देगी.’  इसे दुनिया की सबसे बड़ी न्यूनतम आय योजना करार देते हुए उन्होंने कहा कि यह गरीबी पर आखिरी हमला है.

यह योजना चरणबद्ध तरीके से चलाई जायेगी. ‘‘यह बहुत ही प्रभावशाली और सोची समझी योजना है. हमने योजना पर कई अर्थशास्त्रियों से विचार विमर्श किया है.’’

25 करोड़ लोगों को फायदा होगा

गांधी ने कहा कि पूरा आकलन कर लिया गया. सब कुछ तय कर लिया गया. उन्होंने कहा कि इससे पांच करोड़ परिवार यानी 25 करोड़ लोगों को फायदा होगा. हम सबसे गरीब लोगों की पहचान कर उन्हें गरीबी से हमेशा के लिए निकालना चाहते हैं. हमने मनरेगा से 14 करोड़ लोगों को गरीबी से निकाला है.

इसे भी पढ़ेंः राशिद अल्वी के चुनाव लड़ने से इनकार के बाद कांग्रेस ने सचिन चौधरी को दिया अमरोहा से टिकट

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता का संकट लगातार गहराता जा रहा है. भारत के लोकतंत्र के लिए यह एक गंभीर और खतरनाक स्थिति है. कारपोरेट तथा सत्ता संस्थान मजबूत होते जा रहे हैं. जनसरोकार के सवाल ओझल हैं और प्रायोजित या पेड या फेक न्यूज का असर गहरा गया है. कारपोरेट, विज्ञानपदाताओं और सरकारों पर बढ़ती निर्भरता के कारण मीडिया की स्वायत्तता खत्म सी हो गयी है. न्यूजविंग इस चुनौतीपूर्ण दौर में सरोकार की पत्रकारिता पूरी स्वायत्तता के साथ कर रहा है. लेकिन इसके लिए आप सुधि पाठकों का सक्रिय सहभाग और सहयोग जरूरी है. हमने पिछले डेढ़ साल में बिना दबाव में आए पत्रकारिता के मूल्यों को जीवित रखा है. पत्रकारिता के इस प्रयोग में आप हमें मदद करेंगे यह भरोसा है. आप न्यूनतम 10 रुपए और अधिकतम 5000 रुपए का सहयोग दे सकते हैं. हमारा वादा है कि हम आपके विश्वास पर खरा साबित होंगे और दबावों के इस दौर में पत्रकारिता के जनहितस्वर को बुलंद रखेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता…

 नीचे दिये गये लिंक पर क्लिक कर भेजें.
%d bloggers like this: