न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#RahulGandhi ने #NobelLaureate अभिजीत पर गोयल की टिप्पणी पर कहा, ये कट्टरपंथी घृणा में अंधे हैं  

राहुल  गांधी ने पीयूष की टिप्पणी पर बनर्जी के जवाब से जुड़ी मीडिया रिपोर्टों को टैग करते हुए ट्वीट किया, प्रिय श्री बनर्जी, ये कट्टरपंथी घृणा में अंधे हैं .

28

NewDelhi :  कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी पर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल की टिप्पणी के लिए उन पर निशाना साधते हुए कहा कि ये कट्टरपंथी घृणा में अंधे हैं और उन्हें इस बात का इल्म ही नहीं है कि पेशेवर व्यक्ति क्या होता है. दरअसल केन्द्रीय मंत्री ने पुणे में संवाददाताओं से बातचीत में बनर्जी को वाम झुकाव वाला व्यक्ति करार दिया था. इसके बाद बनर्जी ने शनिवार को एक टीवी चैनल से बातचीत में कहा था कि वाणिज्य मंत्री मेरी पेशेवर दक्षता पर प्रश्न उठा रहे हैं.

इसे पढ़ें : भारत में आमंत्रित करेंगे चीन से बाहर निकलने वाली कंपनियों को: सीतारमण

Aqua Spa Salon 5/02/2020

लाखों भारतीयों को आप के काम पर गर्व है 

राहुल  गांधी ने पीयूष की टिप्पणी पर बनर्जी के जवाब से जुड़ी मीडिया रिपोर्टों को टैग करते हुए ट्वीट किया, प्रिय श्री बनर्जी, ये कट्टरपंथी घृणा में अंधे हैं . आप घृणा से भरे इन अंधभक्तों को दशकों के प्रयास के बाद भी प्रोफेशनल होना क्या होता यह नहीं सिखा सकते.  भले ही आप एक दशक तक भी कोशिश करते रहें.

आप इस बात को लेकर आश्वस्त रहें कि लाखों भारतीय आपके काम की वजह से खुद को गर्वांवित महसूस करते हैं , कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा, इस बात को ध्यान में रखें कि लाखों भारतीयों को आप के काम पर गर्व है. जान लें कि गोयल ने शुक्रवार को यह भी कहा था कि न्यूनतम आय योजना पर बनर्जी के सुझाव को भारतीय मतदाताओं ने नकार दिया है और जैसा वह सोचते हैं उसे मानने की जरूरत नहीं है.

राहुल  गांधी से पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बनर्जी के संदर्भ में गोयल की टिप्पणी को लेकर शनिवार को सरकार पर तंज कसते हुए कहा था कि सरकार का काम कॉमेडी सर्कस  चलाना नहीं बल्कि अर्थव्यवस्था में सुधार करना है.

इसे पढ़ें : BJP मंत्रियों पर प्रियंका गांधी का तंज, कहा- आपका काम अर्थव्यवस्था सुधारना है न कि कॉमेडी सर्कस चलाना

Gupta Jewellers 20-02 to 25-02

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like