न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कौल ब्राह्मण हैं राहुल गांधी और उनका गोत्र दत्तात्रेय, पुष्कर में पूजा की  

राजस्थान में चुनावी दौरे पर निकले राहुल गांधी ने अजमेर स्थित विश्व प्रसिद्ध ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर जियारत की.  अजमेर शरीफ में राहुल के साथ अशेाक गहलोत और सचिन पायलट भी थे.

451

NewDelhi : राजस्थान में चुनावी पारा गरम है. चुनावी जीत हासिल करने की आस में  राहुल गांधी ने अजमेर स्थित विश्व प्रसिद्ध ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर जियारत की.  अजमेर शरीफ में राहुल के साथ अशेाक गहलोत और सचिन पायलट भी थे. बता दें कि अजमेर शरीफ देश की सबसे प्रसिद्ध दरगाहों में शुमार है.  यहां लगने वाले सालाना उर्स में लाखों की तादाद में लोग शरीक होते हैं. वहां से निकलने के बाद  राहुल अजमेर से थोड़ी ही दूर स्थित प्रसिद्ध धार्मिक स्थल पुष्कर पहुंचे.  राहुल की इन यात्राओं को लेकर राजनीतिक गलियारों में एक बार फिर चर्चाओं का दौर शुरू हो गया.  रिपोर्ट्स के अनुसार पूजा करवाने के दौरान राहुल गांधी अपने गोत्र की जानकारी दी और पूजा की.  खबरों के अनुसार राहुल ने पुष्कर में कौल ब्राह्मण और दत्तात्रेय गोत्र के नाम से पूजा की. बता दें कि  राजस्थान की सात दर्जन से ज्यादा सीटों पर कुछ धर्मस्थलों का विशेष प्रभाव बताया जाता है.

इनमें से अधिकतर पर राहुल गांधी जा चुके हैं. बाकी बचे धर्मस्थलों पर जाने का कार्यक्रम बना हुआ है.  कुछ इसी तरह का हाल भाजपा के नेताओं का भी है. वे भी धर्मस्थलों की चौखट चूम रहे हैं. जानकारी के अनुसार  मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में दोनों पार्टियों ने बाकायदा सीटों पर प्रभाव डालने वाले धर्मस्थलों की सूची बनवाई है.  बता दें कि इससे पहले गुजरात और कर्नाटक विधानसभा चुनाव के दौरान भी राजनीति की शतरंज पर धर्मस्थलों की चाल चली गयी थी.

इसे भी पढ़ें :  कांग्रेस ने जजों को महाभियोग के नाम से डराने का खतरनाक खेल शुरू किया: मोदी

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: