न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राहुल की नागरिकता मामले पर कांग्रेस का पलटवार, कहा- मोदी की नैया डूबती देख झूठ का बवंडर खड़ा किया

743

New Delhi : नागरिकता से जुड़ी शिकायत पर गृह मंत्रालय द्वारा राहुल गांधी को नोटिस जारी किए जाने के बाद कांग्रेस ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला. साथ ही दावा किया कि चार चरणों के चुनाव में अपनी नैया डूबती देखकर यह सरकार असल मुद्दों से ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है. लेकिन अब इनको कोई मदद नहीं मिलने वाली है.

पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह भी कहा कि 2015 में भी राहुल गांधी की नागरिकता पर भाजपा ने सवाल किए थे और सुप्रीम कोर्ट ने सारे सवालों को खारिज कर दिया था क्योंकि कांग्रेस अध्यक्ष जन्मजात भारतीय नागिरक हैं.

इसे भी पढ़ें – खौफ के दायरे से बाहर निकलने की जद्दोजहद में है आज का मुसलमान

राजनीतिक संतुलन खो चुकी है बीजेपी

सुरजेवाला ने कहा कि मोदी जी की नैया डूब रही है. हताश और छटपटाए मोदी जी और भाजपा झूठ का बवंडर खड़ा करके ध्यान भटकाने की कोशिश कर रहे हैं. हार तय देखकर मोदी जी और भाजपा राजनीतिक संतुलन खो चुके हैं.

उन्होंने कहा कि 2015 में भी इन्हीं लोगों ने यह मामला उठाया था. इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई करते हुए इस आरोप को खारिज कर दिया था. देश की सबसे बड़ी अदालत ने अपना फैसला दे दिया जिसके बाद ये लोग चार साल तक चुप रहे. अब फिर से इस मामले को उठा रहे हैं क्योंकि चार चरणों के चुनाव में इनको पता चल गया है कि ये हार रहे हैं.

सुरजेवाला ने दावा किया कि ये सोचते हैं कि मुद्दों से ध्यान भटकाने से इनकी नैया डूबेगी. सच्चाई यह है कि इनकी नैया डूबने से कोई नहीं बचा सकता.

इसे भी पढ़ें – बदइंतजामी और रात-रात भर काम करने से परेशान रेल डीएसपी ने दिया इस्तीफा

बीजेपी सरकार कुछ भी कर ले, लोग सवाल करना नहीं छोड़ेंगे

कांग्रेस नेता ने कहा कि बीजेपी सरकार कुछ भी कर लें, लेकिन लोग यह सवाल करना नहीं छोड़ेंगे कि रोजगार के वादे का क्या हुआ, कालेधन को वापस लाने का क्या हुआ, किसानों को लागत से 50 फीसदी अधिक देने के वादे का क्या हुआ?’’

उन्होंने यह भी कहा कि इस नोटिस का ‘माकूल जवाब’ दिया जाएगा. सुरजेवाला ने कहा कि शिकायतकर्ता की ओर से ब्रिटेन की जिस कंपनी का हवाला दिया गया है उसकी स्थापना से जुड़े दस्तावेज में स्पष्ट तौर पर लिखा है कि राहुल गांधी भारतीय हैं. उन्होंने इस दस्तावेज की प्रति भी जारी की.

दरअसल, राहुल गांधी की नागरिकता के मामले में मिली शिकायत के आधार पर केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने उन्हें नोटिस जारी कर एक पखवाड़े के भीतर इस पर उनका ‘तथ्यात्मक रूख’ पूछा है. गृह मंत्रालय ने एक पत्र में कहा कि उसे भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी की ओर से अर्जी मिली है. उसमें कहा गया है कि राहुल गांधी ब्रिटेन में 2003 में पंजीकृत कंपनी बैकऑप्स लिमिटेड के डायरेक्टर्स में शामिल थे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता का संकट लगातार गहराता जा रहा है. भारत के लोकतंत्र के लिए यह एक गंभीर और खतरनाक स्थिति है. कारपोरेट तथा सत्ता संस्थान मजबूत होते जा रहे हैं. जनसरोकार के सवाल ओझल हैं और प्रायोजित या पेड या फेक न्यूज का असर गहरा गया है. कारपोरेट, विज्ञानपदाताओं और सरकारों पर बढ़ती निर्भरता के कारण मीडिया की स्वायत्तता खत्म सी हो गयी है. न्यूजविंग इस चुनौतीपूर्ण दौर में सरोकार की पत्रकारिता पूरी स्वायत्तता के साथ कर रहा है. लेकिन इसके लिए आप सुधि पाठकों का सक्रिय सहभाग और सहयोग जरूरी है. हमने पिछले डेढ़ साल में बिना दबाव में आए पत्रकारिता के मूल्यों को जीवित रखा है. पत्रकारिता के इस प्रयोग में आप हमें मदद करेंगे यह भरोसा है. आप न्यूनतम 10 रुपए और अधिकतम 5000 रुपए का सहयोग दे सकते हैं. हमारा वादा है कि हम आपके विश्वास पर खरा साबित होंगे और दबावों के इस दौर में पत्रकारिता के जनहितस्वर को बुलंद रखेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता…

 नीचे दिये गये लिंक पर क्लिक कर भेजें.
%d bloggers like this: