न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

खूंटी हिंसा पर बोले रघुवर- संवाद करें ग्रामीण, नहीं तो पाताल से भी ढूंढ निकालेगी पुलिस

517

Khunti : प्रशासन और पत्थलगड़ी समर्थकों के बीच हो रही हिंसा अब भी जारी है. पत्थलगड़ी समर्थकों के द्वारा सांसद कड़िया मुंडा के हाउस गार्ड का अपहरण कर लिया गया है. जिसके बाद राज्य के सीएम रघुवर दास ने इसे लेकर ग्रामीणों से कहा है कि वो हिंसा का रास्ता छोड़ दें और शांति से संवाद करें. अगर ऐसा नहीं करते हैं तो पाताल से भी पुलिस उन्हें ढूंढ निकालेगी. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि खूंटी के आदिवासियों को विकास से दूर रखा जा रहा है और उनसे कानून विरोधी काम कराया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें- कर्बला चौक के पास बने डम्पिंग यार्ड से इलाके में फैल रही बदबू, प्रदूषित हो रहा वातावरण, पार्षद ने की यार्ड हटाने की मांग

एक की मौत, 50 से भी ज्यादा समर्थक हिरासत में

गौरतलब है कि भाजपा के सांसद कड़िया मुंडा के तीन हाउस गार्ड का मंगलवार को अपहरण कर लिया गया था. पत्थलगड़ी समर्थकों द्वारा अगवा किए गए तीनों जवानों को छुड़ाने की कोशिश की जा रही है. वहीं पुलिस द्वारा पत्थलगड़ी समर्थकों पर बुधवार को लाठी चार्च किया गया जिसमें एक समर्थक की मौत हो गयी. साथ ही पुलिस ने 50 से ज्यादा समर्थकों को हिरासत में ले लिया है.

इसे भी पढ़ें- खूंटी में जबरदस्त तनाव के बीच प्रशासन का फैसला, 388 ट्रेनी दरोगा संभालेंगे कानून-व्यवस्था, तुरंत खूंटी रवाना होने का आदेश

क्या है पूरा मामला

पत्थलगड़ी समर्थकों के लिये ग्रामीणों ने खुद एक सुरक्षा सेना बना रखी है. पुलिस प्रशासन पत्थलगड़ी इलाके में पहुंची और समर्थकों से कहा कि, आप संविधान के खिलाफ काम कर रहे हैं. जिसके जवाब में पत्थलगड़ी समर्थकों ने कहा कि हम सारा काम संविधान के अंदर रहते हुए ही कर रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- प्रमोशन में आरक्षण पर लगी रोक हाई कोर्ट ने हटायी, पहले वाली व्यवस्था बहाल

इसी दौरान पहले तो बहस चली और फिर पुलिस और पत्थलगड़ी समर्थकों के बीच झड़प होने लगी. पुलिस नेथोड़ा भी इंतजार किये बिना लाठीचार्ज कर दिया और पत्थलगड़ी समर्थकों में से दो ग्रामीणों को  अपने साथ ले गये. यह बात तुरंत इलाके में आग की तरह फैल गयी, सर्मथकों ने उस वक्त गांव में चल रही बैठक में जाकर इस बात की जानकारी दे दी. उसके बाद सभी लोग वहां से चानेडीह पहुंच गये और बीजेपी सांसद कड़िया मुंडा के घर पर तैनात तीन होम गार्ड को अपने साथ ले गये. पत्थलगड़ी समर्थकों का कहना है कि जब तक पुलिस हमारे लोग को नहीं छोड़ेगी, तब तक हम पुलिस वालों को भी बंधक बनाकर रखेंगे.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं. 

silk_park

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: