न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रघुवर सरकार ने चार सालों में कुशासन का बनाया रिकॉर्ड: सुबोधकांत

34
  • वीकेंड में घर जाने के लिए उड़नखटोले पर जनता का पैसा बहाया सीएम ने
  • पारा शिक्षकों का वेतन बढ़ाने में फटती है छाती, इश्तेहार पर 300 करोड़ फूंक डाले

Ranchi: पूर्व केंद्रीय मंत्री व वरिष्ठ कांग्रेस नेता सुबोधकांत सहाय ने कहा है कि राज्य की रघुवर दास सरकार ने चार सालों के कार्यकाल में कुशासन का रिकॉर्ड बनाया है. हर मोर्चे पर नाकाम इस सरकार ने जनता की आकांक्षाओं को रौंदा है और विकास के नाम पर सिर्फ हवा में हाथी उड़ाये हैं. हैरत इस बात पर होती है कि चार सालों में रांची-टाटा सड़क तक का निर्माण नहीं करा पाने वाली इस सरकार के मुखिया ने लगभग हर वीकेंड में राजधानी रांची से टाटा स्थित अपने घर जाने के लिए हेलीकॉप्टर की उड़ान पर जनता के करोड़ों रुपये उड़ा डाले हैं.

सरकार की नींव ही रखी गयी छल-प्रपंच के साथ

कांग्रेसी नेता सहाय ने कहा कि इस सरकार की नींव ही छल-प्रपंच के साथ रखी गयी थी. विधानसभा में बहुमत जुटाने के लिए विधायी मर्यादा की धज्जियां उड़ाते हुए दूसरी पार्टी के विधायकों को लोभ-लालच देकर तोड़ा गया था. जिस सरकार की शुरुआत ही नैतिकता की धज्जियां उड़ाकर हुई थी, उसने चार सालों में हर क्षेत्र में न सिर्फ तमाम नियम-कायदे रौंद डाले बल्कि राज्य को बदहाली की ओर धकेल दिया.

ग्लोबल समिट के नाम पर किसानों का उड़ रहा मजाक

इस राज्य में एक तरफ सूखा पीड़ित किसान राहत की गुहार लगाते रह जाते हैं, तो दूसरी तरफ यह सरकार कभी ग्लोबल समिट के नाम पर इन किसानों का मजाक उड़ाती है तो कभी राज्य के मुखिया पूरे लाव-लश्कर के साथ विदेश दौरे पर निकल जाते हैं. पारा शिक्षकों, रसोइयों और आंगनबाड़ी सेविकाओं का वेतन बढ़ाने के नाम पर इस सरकार की छाती फटने लगती है. वहीं दूसरी तरफ चार सालों में सिर्फ इश्तेहारों पर 300 करोड़ से भी ज्यादा की राशि फूंक डालती है.

अपने शासनकाल में घोटाले का रिकॉर्ड बना रहे हैं मुख्यमंत्री

सहाय ने कहा कि अपने करीब चार सालों के शासनकाल में मुख्यमंत्री रघुवर दास घोटाले का रिकॉर्ड बनाने जा रहे हैं. ‘मोमेंटम झारखंड’ अपने आप में इस राज्य का सबसे बड़ा घोटाला है. जिस दिन इसकी जांच हो गयी, इस सरकार के मुखिया से लेकर तमाम कारिंदे जेल के अंदर होंगे. राजधानी रांची में सिवरेज-ड्रेनेज, हरमू नदी जीर्णोद्धार, हाई कोर्ट की बिल्डिंग के निर्माण में भी घोटाले के रिकॉर्ड बने हैं.

इसे भी पढ़ेंः गोधरा दंगों के दौरान गृहमंत्री रहे झड़ापिया बने यूपी बीजेपी प्रभारी, कभी मोदी के पीएम नहीं बनने के लिए चलाया था कैंपेन

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: