न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

रघुवर दास ने वाजपेयी के साथ बिताये क्षणों को साझा किया, हुए भावुक, कहा- अटल जी हमारे लिए आदर्श

486

Ranchi : मुख्यमंत्री रघुवर दास ने गुरुवार को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के साथ बिताये क्षणों को साझा किया. वाजपेयी के साथ बिताये गए क्षणों को साझा करते वक्त सीएम भावुक भी हो गये. कहा कि मेरे चुनाव प्रचार में आए थे, ऑपरेशन हुआ था, हमने आग्रह किया कि बैठकर भाषण दें पर उन्होंने खड़े होकर लोगों को संबोधित किया. कहा वे ओजस्वी वक्ता, अपराजेय वक्ता के साथ काफी संवेदनशील हैं. 2004 में राष्ट्रीय कार्यसमिति के प्रस्ताव को उन्होंने सहज स्वीकार कर लिया था. झारखंड बनने पर यहां की जनता झूम उठी थी. ऐसा फैसला उनके जैसा शिखर पुरुष ही ले सकता था. राज्य में क्षेत्रीय विषमता, असंतुलन को ध्यान रखकर वाजपेयी जी ने अलग राज्य की कल्पना को जमीं पर उतारा. वाजपेयी हमारे लिए आदर्श थे.

mi banner add

इसे भी पढ़ें- वन विभाग को नहीं मिला एके 47 और रायफल, धरा का धरा रह गया प्रस्ताव

जब मैं वाजपेयी को सुनने पहुंचा

सीएम ने कहा कि जब मैं मंडल अध्यक्ष था तब वाजपेयी जी को सुनने पहुंचा था. पोखरण से भारत की शक्ति का एहसास पूरी दुनिया को हुआ. वे हंसते-हंसते बहुत बातें बता जाते थे. तीन राज्य का गठन छोटी बात नहीं थी. आज पूरा देश उनके स्वास्थ्य के लिये प्रार्थना कर रहा है. सीएम ने कहा कि वाजपेयी एक जन नायक, एक महानायक हैं. भगवान लोगों की प्रार्थना जरूर सुनेंगे.

इसे भी पढ़ें- सालों से अपने ही घर में कैद भाई-बहन को पुलिस ने कराया आजाद, किरायेदार डॉक्टर पर आरोप

सूरज उगेगा कमल खिलेगा

वाजपेयी जी ने कहा था कि सूरज उगेगा, कमल खिलेगा. उनकी सोच थी कि कोई बेघर ना रहे. कहा भी था कि हम जियेंगे तो देश के लिये , मरेंगे तो देश के लिये. सीएम ने 1995 के चुनाव का जिक्र करते हुये कहा कि राजनीति में उनसे काफी मार्गदर्शन भी मिला.

इसे भी पढ़ें- विकास के मानकों में पीछे छूट रहा सीएम का विभाग, सड़क, बिजली, खान, वन राष्ट्रीय मानक से भी पीछे

इसे भी पढ़ें- अटल बिहारी वाजपेयी की हालत बेहद नाजुक,  फुल लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर पूर्व प्रधानमंत्री

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: