न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राफेल डील : जेटली-राहुल के बीच जुबानी जंग तेज, बात बातूनी ब्लॉगर, विदूषक युवराज तक पहुंची

वित्त अरुण जेटली और कांग्रेस के बीच जुबानी जंग तेज हो चली है. एक तरफ जेटली राहुल गांधी को मसखरा यानी जोकर करार दे रहे हैं, तो कांग्रेस कहां चूक रही है?

136

NewDelhi : वित्त अरुण जेटली और कांग्रेस के बीच जुबानी जंग तेज हो चली है. एक तरफ जेटली राहुल गांधी को मसखरा यानी जोकर करार दे रहे हैं, तो कांग्रेस कहां चूक रही है? वह पलटवार करते हुए अरुण जेटली को बातूनी ब्लॉगर का तमगा दे रही है. बता दें कि कांग्रेस ने केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली को मंगलवार को बातूनी ब्लॉगर कहा.  इसके पूर्व जेटली ने अपने ब्लॉग में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के लिए विदूषक युवराज शब्द का इस्तेमाल किया, जिसके जवाब में कांग्रेस ने जेटली को बातूनी ब्लॉगर बताया. जेटली अपने ब्लॉग में राफेल डील सहित विभिन्न मुद्दों पर राहुल द्वारा उठाये सवालों को टालते हुए झूठा बताकर उपहास उड़ा रहे हैं. जवाबी हमले में कांग्रेस कह रही है कि भारत को एक वित्तमंत्री की जरूरत है, न कि एक बातूनी ब्लॉगर की.

इसे भी पढ़ें – एमजे अकबर की मुसीबत बढ़ी, पत्रकार रमानी के समर्थन में 20 महिला पत्रकार, देंगी गवाही

 मेादी राफेल डील परअपनी चुप्पी तोड़ें : कांग्रेस

hosp3

बता दें कि जेटली ने अपने ताजा ब्लॉग में राफेल डील में कथित अनियमितता और बैंकों के बढ़ते एनपीए सहित राहुल गांधी के आरोपों को एक-एक कर खारिज किया है. कांग्रेस ने जेटली से राफेल घोटाले पर 10 सवाल और एनपीए पर पांच सवाल पूछ कर उनके जवाब मांगे थे. फ्रांस के साथ राफेल डील के संदर्भ में जानना चाहा है कि आखिर हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) को इस सौदे से बाहर कर अपने मित्र उद्योगपति को 30,000 करोड़ का लाभ क्यों पहुंचाया गया. यह भी पूछा कि 126 विमानों के बदले 36 विमान क़्यों खरीदे गये, सरकार जवाब दे.  मेादी राफेल डील परअपनी चुप्पी तोड़ें.

इसे भी पढ़ें – राज्य प्रशासनिक सेवा के 700 अफसर नहीं बन  पाये स्पेशल सेक्रेटरी, 60 साल की नौकरीसिर्फ तीन प्रमोशन

  राहुल पर मनगढंत कहानियां बनाने का आरोप

केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने मंगलवार को एक बार फिर घोटालेबाज नीरव मोदी से मिलने के आरोप को नकारते हुए राहुल गांधी के लिए शहजादे शब्द का प्रयोग किया. राफेल सौदे समेत विभिन्न मुद्दों पर उठ रहे सवालों का जवाब न देते हुए राहुल पर मनगढंत कहानियां बनाने का आरोप लगाया. मोदी सरकार के खिलाफ लगाये गये आरोपों पर जेटली ने कहा कि कांग्रेस प्रमुख लगातार झूठ बोल रहे हैं. क्या यह उनका व्यक्तित्व बन गया है?  जेटली ने कहा, मैं अपने पूरे जीवन में कभी नीरव मोदी से नहीं मिला. संसद में उससे मेरी मुलाकात का सवाल ही नहीं उठता. जैसा राहुल गांधी दावा कर रहे हैं कि अगर वह संसद आया, तो रिसेप्शन के रिकार्ड से इसका पता चल जायेगा उन्होंने राहुल गांधी द्वारा सोमवार को चुनावी राज्य मध्यप्रदेश में एक रैली को संबोधित करने का क्लिप लगाया, जिसमें राहुल ने कहा था कि भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या और हीरा कारोबारी घोटालेबाज नीरव मोदी, दोनों ने देश से फरार होने से पहले मोदी से मुलाकात की थी.

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: